गुटबाजी खत्म नहीं हुई तो तृणमूल को चुनाव में होगी भारी दिक्कत – मुमताज़ संघमिता

रविवार की सुबह को शहर के सिटी सेंटर स्थित सृजनी हॉल में तृणमूल प्रार्थी ममताज संघमिता चौधरी के समर्थन में निर्वाचन प्रस्तुति सभा आयोजित की गई। जिसमें पश्चिम बर्द्धमान जिला तृणमूल कॉंग्रेस के कार्यकारी सभापति उत्तम मुखर्जी, दुर्गापुर के विधायक विश्वनाथ पड़ियाल, दुर्गापुर नगर निगम के मेयर दिलीप अगस्ती, उप-मेयर अनिंदिता मुखर्जी, एमआईसी (हेल्थ) राखी तिवारी, एमआईसी (जल विभाग) पवित्र चटर्जी समेत प्रभात चटर्जी, अमिताभ बनर्जी, बोरो चेयरमैन रमा प्रसाद हालदार, चंद्रशेखर बनर्जी, पार्षद सहित तृणमूल कार्यकर्ता मौजूद थे।

उत्तम मुखर्जी से विवाद का मामला उठा

सभा में एक नंबर ब्लॉक के अध्यक्ष सत्यजीत राय तथा तीन नंबर ब्लॉक के अध्यक्ष भीमसेन मंडल उपस्थित नहीं रहे। जबकि दो नंबर ब्लॉक के अध्यक्ष सर नंदू विश्वास उपस्थित थे। कर्मियों के बीच में सर नंदू विश्वास ने उत्तम मुखर्जी पर आरोप लगाया कि ब्लॉक को जानकारी नहीं दी, जिसके कारण ही दोनों ब्लॉक के अध्यक्ष मौजूद नहीं रहे। उत्तम मुखर्जी कर्मियों को लेकर एक साथ नहीं चल रहे हैं। जिसके कारण यहाँ विवाद चल रहा है। खासकर ब्लॉक के साथ उनका कोई तालमेल नहीं है। जिसके कारण इन 3 ब्लॉकों को काफी असुविधा हो रही है।

उतम मुखर्जी पर गुटबाजी का आरोप

उत्तम मुखर्जी ने बताया कि सभी को जानकारी दी गई है, आरोप बेबुनियाद है। विशेष सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रस्तुति सभा में उत्तम मुखर्जी की भूमिका पर नीचे स्तर के तृणमूल कर्मियों का आक्रोश है। क्योंकि वह अपने कुछ पसंदीदा नेता कार्यकर्ताओं को लेकर ही चलते हैं, जिसके चलते ही यहाँ गुटबाजी उभर कर सामने आ रही है। अब देखना यह है कि ब्लॉक को लेकर किस तरह से प्रचार में चलते हैं। अगर गुटबाजी खत्म नहीं हुई तो तृणमूल को चुनाव में दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। इस प्रस्तुति सभा में विभिन्न वक्ताओं ने अपने वक्तव्य को रखा।

भात चटर्जी, विश्वनाथ पड़ियाल को भी  दी गयी हिदायत

ट्रेड यूनियन के नेता प्रभात चटर्जी, विश्वनाथ पड़ियाल को भी हिदायत दी गई है कि एक साथ मिलकर चुनाव मैं उतरे और कहा गया है कि अपने-अपने इलाके में भेदभाव को भुलाते हुए तथा अपने वार्ड में पार्षद, बोरो चेयरमैन तथा ब्लॉक को लीड दिलाने की बात कही गई है। सभी एक साथ मिलकर इस चुनाव में जुट जाएं और मुमताज संघमिता चौधरी को अधिक से अधिक वोट से विजय दिला कर ममता बनर्जी का हाथ मजबूत करें। सभा में दुर्गापुर के पूर्व मेयर अपूर्वा मुखर्जी की उपस्थिति देखने को नहीं मिली।

अपूर्व मुखर्जी के कुछ अनुगामी का कहना है कि अपूर्व मुखर्जी इस मैदान पर अगर फिर से उतरते हैं, तो मूमताज संघमिता चौधरी को बहुत वोटों से ही विजय मिलेगी। अब देखना यह है कि अपूर्व मुखर्जी इस मैदान में उतरते हैं या नहीं। लोगों की निगाहें उन पर टिकी हुई है।

आपसी भेदभाव मिटाकर करें चुनाव प्रचार : संघमिता

मुमताज संघमीता चौधरी ने अपने वक्तव्य कहा कि ममता बनर्जी के हाथ को मजबूत करना है, आपसी भेदभाव को भुलाते हुए एक साथ मिल कर चुनाव प्रचार करें और जिन-जिन जगहों को असुविधा हो रही है, वहाँ अपने नेतृत्व को जानकारी दें। समय बहुत कम है लोगों तक पहुँचना है और ममता बनर्जी के विकास कार्य को लोगों तक पहुँचाना है। कहा कि बूथ कर्मियों को सतर्क रहने की जरूरत है और मैदान में उतर कर लोगों तक पहुँचे।

Subscribe Our YouTube Channel for instant Video News Uploaded

Last updated: मार्च 24th, 2019 by Durgapur Correspondent