डीआरएम ने सतर्कता के लिए गार्ड एवं पोर्टरों की प्रशंसा की

आसनसोल -हल्दिया से बरौनी के लिए अलकतरा से लदी हुई 41 वैगनों की मालगाड़ी दिनांक 08.08.2018 को करीब 13.50 बजे रूपनारायणपुर पहुँची। ड्युटि पर तैनात गार्ड आर.के.पाण्डेय (अंडाल) ने जलने के गंध की रिपोर्ट दी। इस घटना को ड्युटि पर तैनात पोर्टर(रूपनारायणपुर) रूपेश राम ने पुष्टि की। उन्होंने देखा कि ब्रेक वैन से छठवां वैगन जिसका नम्बर 31110314176 एनडब्ल्यूआर (दक्षिणी दिशा) का कालका छोर चक्के के हावड़ा छोर ट्रॉली का रोलर बियरिंग जाम हो जाने के कारण धुआँ निकल रहा है।

श्री राम ने धुआँ निकलने की सूचना फौरन ड्युटि पर तैनात एसएम (रूपनारायणपुर) को दी तथा अग्नि शामक एवं बालू के प्रयोग से आग बुझाकर अपने अभूतपूर्व उपस्थित बुद्धि का परिचय दिया। प्रभावित वैगन को अलग कर दिया गया तथा गाड़ी रूपनारायणपुर से 16.25 बजे खुल गई। ये वैगने जलनशील पदार्थों (कोल तार) से लदी हुईं थीं। स्टेशन कर्मचारी एवं गार्ड के द्वारा यदि समय से आग की पहचान तथा इसके त्वरित शमन की कार्यवाही नहीं हुई होती तो आग की एक भयंकर दुर्घटना घट सकती थी। श्री आर.के.पाण्डेय/गार्ड तथा श्री रूपेश राम/पोर्टर के सतर्कता एवं त्वरित कार्यवाही के कारण चलती गाड़ी में आग लगने की दुर्घटना को टाला जा सका।

कार्य स्थल पर ड्युटि के दौरान इस सतर्कता के लिए अपना संतोष व्यक्त करते हुए श्री पी.के.मिश्रा,मंडल रेल प्रबंधक/आसनसोल ने दोनों कर्मचारियों के लिए 5000 रूपयों का सामुहिक पुरस्कार स्वीकृत किया तथा यह आशा व्यक्त किया कि श्री पाण्डेय/गार्ड तथा श्री रूपेश राम/पोर्टर के ये प्रयास अन्य सहकर्मी रेलवे कर्मचारियों को अपने ड्युटि को समर्पण तथा निष्ठा से करने के लिए अनुप्राणित करेगा।

 

सौजन्य : आसनसोल रेल मंडल, जनसंपर्क विभाग

Subscribe Our Channel

Last updated: अगस्त 9th, 2018 by Jahangir Alam