जर्जर सड़क पर चलने में ग्रामीणों को हो रही काफी परेशानी

सरकार ने ऐसे सुदुर ग्रामीण गाँव रामाकुंडा और खरियो को नगर निगम में शामिल कर दिया है, जो लोगों के समझ से परे है : परशुराम महतो मुखिया रामाकुंडा

तोपचांची प्रखंड के खरियो से रामाकुंडा गाँव तक का सड़क काफी जर्जर होने से ग्रमीणों को भारी दिक्कत हो रही है , करीब दो किलोमीटर तक सड़क का ऊपरी भाग उखड़ चुका है, पूरे सड़क का मेटल नजर आ रही है, रास्ते पर बहुत जगह पर गड्ढा होने से आने-जाने वाले

राहगीरों को काफी परेशानी उठानी पड़ती है, लोग रेलवे के अंडर ग्राउंड पुल से होकर रामा कुंडा गाँव आते जाते हैं। पुल के नीचे काफी बड़ा गड्ढा है, जो तालाब में तब्दील हो चुका है।जिसमें बरसात का गंदा पानी भरा हुआ है , लोग उसी गड्ढे में घुस कर आने-जाने को बेबस हैं , जिससे बीमारी होने का खतरा बना रहता है, लोग ऐसे ही कोरोना महामारी बीमारी के नाम से डरे सहमें हुए हैं। उसपर इस गढ्ढे का गंदा पानी से पूरे गाँव के लोगों का आना-जाना होता है जिससे बीमार होने का खतरा बना रहता है।

इस मामले पर रामा कुंडा गाँव के मुखिया परशुराम महतो से पूछने पर उन्होंने बताया कि मैंने इस सड़क और पुल के बारे में स्थानीय सांसद सी पी चौधरी को लिखित आवेदन देकर रेलवे के अंडर ग्राउंड रास्ते के स्थान पर फ्लाई ओवर ब्रिज बनवाने का अनुरोध किया है।

जिस पर उन्होंने फ्लाई ओवर ब्रिज बनवाने का आश्वासन दिया है। वहीं जर्जर सड़क के बारे में स्थानीय विधायक मथुरा प्रसाद महतो ने भी सड़क बनवाने की बात कही है। अब ग्रामीण सांसद और विधायक के वादों का इंतजार देख रहे हैं की आखिर कब तक काम होगा। और ग्रामीणों को हो रही इन समस्याओं से निजात मिलेगा।

Last updated: जुलाई 3rd, 2020 by Nazruddin Ansari
Nazruddin Ansari Nazruddin Ansari
Correspondent- Gomoh(Dhanbad)
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।