असंगठित मजदूर सरदारी विवाद फिर पहुँचा थाना, थाना परिसर ही रणक्षेत्र बनने से बचा

लोयाबाद थाना में सोमवार को बासुदेवपुर कोल डंप के असंगठित मजदूर संघ के दोनों गुटों के बीच मारपीट होते होते बचा। दोनों गुटों के बीच खूब तीखी नोक-झोंक हुई।थाना प्रभारी चुन्नू मुर्मू की मौजूदगी करीब घंटे भर दोनों गूट के मजदूर व समर्थक हंगामा करते रहे। पुलिस बीच बचाव न होता तो थाना परिसर ही रणक्षेत्र बन जाता।

कॉंग्रेस और आजसु समर्थक बोलने लगे एक दूसरे के खिलाफ

थाना परिसर में लोगो को शांत कराती पुलिस

दोनों गुटों के तरफ से महिलायेंं भी शामिल थी।मुद्दा यहाँ कोल डंप में सरदारी विवाद को लेकर शुरू जरूर हुई लेकिन असल मकसद यहाँ डंप में वर्चस्व को लेकर महीने दिनों से जिच बनी हुई है।वैसे तो शुरूआती समय में अलग अलग कई पार्टी और गूट नजर आए लेकिन अब दो गूट खुलकर आमने सामने हो चुका है। एक गूट कॉंग्रेस का तो दूसरा आजसु समर्थक एक दूसरे के खिलाफ खुलकर बोलना और आरोप लगाना शुरू कर दिया है।धीरे-धीरे हालात खूनी संघर्ष की तरफ बढ़ रही है। फिलहाल इन दोनों गुटों के सरदारी विवाद एसडीएम के पास भेजने की बात कहकर थाना प्रभारी चुन्नू मुर्मू मामले को थोड़ी देर के शांत जरूर कर दिया है।

रमेश हाड़ी और चंद्रदेव भुईयाँ के बीच सरदारी विवाद

कोपली देवी और माया देवी का विवाद सलटा तो अब रमेश हाड़ी और चंद्रदेव भुईयाँ के बीच सरदारी विवाद शुरू हो गया है।सोमवार को कॉंग्रेस समर्थित पंद्रह दंगल और आजसु समर्थित सात दंगल के मजदूरों के द्वारा थाने का घेराव कर दिया गया। थाना में कॉंग्रेस के रमेश हाड़ी डब्लू पासवान कारु गुप्ता व मुकेश साव तथा आजसु के संतोष महतो विनोद पासवान सरदार शंकर केसरी गुड्डू रवानी आमने-सामने हो गए।थाना प्रभारी की मौजूदगी में दोनों के बीच जमकर नोक-झोंक हुई।बात और आगे बढ़ती इससे पहले पुलिस ने दोनों पक्षों के लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया।

थाना प्रभारी ने रमेश और चंद्रदेव के दंगल के भुगतान पर लगाई रोक

थाना प्रभारी ने इस मामले को एसडीएम के पास भेज दिया तथा मामले का हल नहीं निकलने तक कार्गो प्रालि0 के लिफ्टर को इस दंगल को भुगतान करने पर रोक लगा दिया। सुबह करीब 11 बजे आजसु समर्थित मजदूरों ने चंद्रदेव भुईयाँ की सरदारी की मांग करते हुए कोल डंप पहुँचे और नारेबाजी करने लगे।

मौके पर पहुँची पेट्रोलिंग पुलिस ने डंप से मजदूरों को हटाकर थाना परिसर भेज दिया इसके बाद दोनों गुटों के दर्जनों मजदूर थाना जा पहुँचे।

कोयले की लिफ्टिंग छीनने के बाद नया नया विवाद खड़ा किया जा रहा है:-डब्लू पासवान

कॉंग्रेस नेता डब्लू पासवान का कहना है कि कार्गो प्रालि के 26 हजार टन कोयले की लिफ्टिंग छीन जाने के आजसु जिलाध्यक्ष मंटू महतो के समर्थकों के द्वारा नया नया विवाद खड़ा किया जा रहा है।अब तक कई बार भुगतान मिल चुका है तब चंद्रदेव भुईयाँ और उनके मजदूर कहाँ थे। चंद्रदेव भुईयाँ को सरकारी नौकरी हो चुकी है। रमेश हाड़ी पहले से सरदार है।

संजय बाउरी सरकारी नौकरी कर रहा है उसे भी सरदारी नहीं मिलनी चाहिए:-संतोष महतो

आजसु समर्थक संतोष महतो ने कहा कि संजय बाउरी सरकारी नौकरी कर रहा है तथा अजय रवानी व गणेश भारती आउटसोर्सिंग कंपनी में कार्यरत है इन लोगों को सरदारी कैसे दी जा रही है। चंद्रदेव भुईयाँ सरदारी नहीं मांग रहा है। वह अपने दंगल के मजदूरों का हक मांग रहा है। कोयले की लिफ्टिंग छिनने के बाद विवाद खड़ा करने का आरोप गलत है।

Last updated: फ़रवरी 22nd, 2021 by Pappu Ahmad
Pappu Ahmad Pappu Ahmad
Correspondent, Dhanbad
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।