आउटसोर्सिंग का चक्का जाम कर तीन मजदूरों ने रुकवाया अपना तबादला

 उड़ीसा तबादले कर दिए जाने के विरोध में मंगलवार को कम्पनी के तीन मजदूरों ने कनकनी में संचालित हिलटाॅप आउटसोर्सिंग कंपनी का काम ठप कर दिया।

तीनों मजदूरों में रामप्रवेश चौहान, जावेद खान एवं सरफराज खान शामिल है। तीनों सुबह में परियोजना स्थल पहुँचा और हंगामा करने लगा। कम्पनी प्रबन्धन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कम्पनी के वाहनों के आगे आकर जमीन पर लेट गया और कहा कि मेरी शरीर पर गाड़ी चढ़ा दो, अब कम्पनी मेरी लाश पर ही इस परियोजना संचालित कर सकती है।  हम किसी भी कीमत पर उड़ीसा नहीं जाएँगे।

तीनों का कहना था कि हमलोग यहाँ के स्थानीय है।  कोई परिवार तो किसी ने पिता के बीमार होने की दुहाई दे रहे थे। करीब तीन घण्टे तक हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा

लोयाबाद पुलिस मजदूरों को कार्य स्थल से हटाते हुए
लोयाबाद पुलिस मजदूरों को कार्य स्थल से हटाते हुए

लोयाबाद व जोगता पुलिस पहुँची और तीनों को हिरासत में लेकर कम्पनी का काम चालू कर दिया।

बाद में लोयाबाद थाना में पुलिस की मौजूदगी में कम्पनी के जीएम अंजय सिंह व तीनों के बीच सुलह हो गया। इन तीनों मजदूरों ने कम्पनी से कहा कि हमलोग उड़ीसा नहीं जाएँगे पर जब कभी परियोजना का विस्तार होगा। पहले हम तीनों को नियोजन में प्राथमिकता देनी होगी। इसपर कम्पनी ने सहमति जता दी। सुलह का एक पत्र भी तैयार किया गया।

बताया जाता है कि कनकनी में कम्पनी का काम अब खत्म होने वाली है।इस लिए मजदूरों को दूसरी जगह पर तबादला किया जा रहा है। कम्पनी की माने तो 28 मजदूरों को उड़ीसा तबादला किया गया है।

Last updated: जनवरी 14th, 2020 by Pappu Ahmad

Pappu Ahmad Pappu Ahmad
Correspondent, Dhanbad
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।