बीसीसीएल खदान में दो दिन से घुसे हैं चोर , सुरक्षा बल उसके निकलने के इंतजार में

chanak-bccl-erea-5

लोयाबादः-बीसीसीएल एरिया पाँच के बंद पाँच न० बंद खदान में बुधवार को देर रात चोरों के एक दल ने केबल चोरी करने के लिए खदान में घुसा । सूचना पर लोयाबाद पुलिस तथा सीआईएसएफ ने खदान को चारों तरफ से घेरा बंदी कर लिया गया है लेकिन अभी तक चोरों का कोई सुराग नहीं मिला है।

सूचना पाकर लोयाबाद थाना और सी आई एस एफ दल भारी संख्या में पहुँचकर लोयाबाद पाँच न0 खदान और अक्टूबर इंक्लाइन को चोरों तरफ से घेर लिया गया । घेराबंदी का नेतृत्व लोयाबाद थाना के सहायक अवर निरीक्षक के पी यादव और सी आई एस एफ इंस्पेक्टर रंजीत कुमार अपने दल बल के साथ कर रहे थे। सीआईएसएफ इंस्पेक्टर कुमार ने बताया कि इंकलाइन का गेट का ताला टूटा हुआ है और खदान से बाहर निकले का यही एक मात्र रास्ता है, इसलिए हमलोग ने चोरों को पकडने के लिए यहाँ एम्बूश लगा रखा है ।

इतने बड़े दल-बल के और सुरक्षा के ताम -झाम के बावजूद चोरों का घुसना और घेराबंदी के बाद भी नहीं पकड़ा जाना कई सवाल खड़े करता है। उसपर अभी तक बीसीसीएल ने चोरी की कोई शिकायत दर्ज भी नहीं कार्यवाही है ।

समाचार लिखे जाने तक बीसीसीएल के द्वारा चोरी का कोई लिखित आवेदन थाना में नहीं दिया गया है। रात्रि में जिस तरह से लोयाबाद पुलिस और सीआईएसएफ जवानों ने चोरों को पकडऩे के लिए घेराबंदी किया था वह गुरुवार क़ो नहीं दिखा, केवल सीआईएसएफ के ए एस आई सुखदेव यादव एक जवान के साथ अक्टूबर इंक्लाइन के मुहाने पर तैनात दिखे।उन्होंने जानकारी दिये कि चोरों द्वारा काटी गई लगभग 50 फीट केबल जब्त कर बीसीसीएल के अधिकारियों को सूपूर्द किया गया है।

लोयाबाद थाना प्रभारी संजय चंद्र उराँव ने केबल चोरी की घटना की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि बीसीसीएल द्वारा चोरी के लिखित आवेदन दिये जाने पर अग्रिम कार्यवाही किया जाएगा। चोरों के खदान के अंदर छुपे होने का कोई सटिक जबाब न बीसीसीएल प्रबंधक और न ही लोयाबाद थाना प्रभारी दे पा रहे हैंं। समाचार लिखे जाने तक सीआईएसएफ का घेराबंदी जारी है।

बुधवार की रात में घुसे चोर

अक्टूबर इंक्लाईन का टूटा गेट
अक्टूबर इंक्लाईन का टूटा गेट

प्राप्त जानकारी के मुताबिक बुधवार रात्रि लगभग सवा ग्यारह बजे लोयाबाद पाँच न० बंद चानक में जोर का आवाज हुआ, वहाँ कार्यरत हाजरी बाबु व कर्मियों ने बाहर निकल कर देखा तो खदान का गाईड रस्सा काफी जोरों से हिल रहा था, चानक में अंदर झांक कर देखा गया तो कई टॉर्च की रौशनी दिखाई पडी । तुरंत इसकी सूचना विद्युत फोरमेन तपन कु० पण्डा को दिया गया। तपन पंडा ने फोन पर इसकी सूचना कोलियरी अभियंता बी के श्रीवास्तव उर्फ पप्पू को दिये । सूचना पाकर दोनों अधिकारी चानक पहुँचे । जाँच करने पर पाया कि खदान के अंदर चोरों का एक दल घुसा हुआ है । अभियंता श्रीवास्तव ने अनुमान लगाया कि चोरों ने दक्षिण साईड के में साफ्ट केबल लगभग 800 फीट लम्बा तथा 120 एसक्यूवर एम एम को काट कर खदान के नीचे गिरा दिया गया है,जिसे संभवत बंद अक्टूबर इंक्लाइन के रास्ते बाहर निकाला जाता।

अक्टुबर इंक्लाइन का प्रवेश गेट का ताला टूटा हुआ है। चोरों के दल इसी रास्ते से लोयाबाद पाँच न0 खदान पहुँचे थे। सूत्रों की माने तो संभावना व्यक्त किया जा रहा है कि केबल चोरों को खदान की पूरी भौगोलिक स्थित पता है ।

Subscribe Our YouTube Channel for instant Video News Uploaded

Last updated: अप्रैल 18th, 2019 by Pappu Ahmad