जनता कर्फ्यू से पूरा शहर रहा बंद , लोग अपने घरों में रहे कैद, शहर में पसरा सन्नाटा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान का जनता ने जमकर किया समर्थन

मधुपुर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान के मुताबिक जनता कर्फ्यू को लेकर 22 मार्च को पूरे भारत के तरह मधुपुर भी प्रायः बंद रहा । शहर के गली कूचे चौक चौराहे पूरी तरह से सन्नाटा छाए रहे। सड़कों पर एक भी लोग नजर नहीं आए , गाड़ियाँ पूरी तरह बंद रही । बाजार हाट छोटी-छोटी चौक चौराहे भी पूरी तरह बंद देखे गए. एक भी दुकानें शहर में नहीं खोले गए.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एलान का जनता ने जमकर किया समर्थन .जनता कर्फ्यू का पूरा असर देखने को मिला । करोना वायरस जैसे खतरनाक बीमारी से लड़ने के लिए जनता भी खड़ी है । चाहे जो भी उठाने पड़े तकलीफ सरकार के साथ जनता है खड़ी नजर आए.

प्रधानमंत्री के आह्वान पर जनता कर्फ़्यू के दौरान शाम पाँच बजे घंटी बजाकर कोरोना से लड़ रहे स्वास्थ्यकर्मियों का हौसला बढ़ाता हुआ एक परिवार

मधुपुर शहर के गाँधी चौक, हटिया रोड, स्टेशन रोड, थाना रोड ,हाजी गली, राजबाड़ी रोड, कलासी माला चौक चौक, डालमिया चौक, भगत सिंह चौक, यहाँ तक के गाँव में भी छोटी-छोटी चौक चौराहे पूरी तरह से बंद रहे। एक भी ट्रेन,बस या गाड़ियाँ नहीं चली ।

पूरा शहर सन्नाटा में तब्दील हो गया । लोग अपने अपने घरों में कैद रहे , ताके कोरोना जैसे खतरनाक बीमारी से मुकाबला किया जा सके, और इसका संक्रामण अन्य लोगों तक ना पहुँच पाए ।

अनुमंडल प्रशासन पूरी तरह हरकत में नजर आए और सख्त निगरानी करते रहे ताके एक भी दुकान ना खुले । लोग अपने-अपने घरों में महफूज रहे. इसके लिए अनुमंडल प्रशासन कल शाम प्रचार प्रसार करके लोगों से दुकानें बंद रखने और जनता अपने घरों से बाहर ना निकले इसके लिए प्रचार करते देखे गए.

शहर में पहली बार ऐसी बंद देखी गई ऐसा नजारा पहली बार लोगों को देखने को मिला . लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की ।

Last updated: मार्च 22nd, 2020 by Ram Jha
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।