कोयला उद्योग में 100 फीसदी विदेशी निवेश के खिलाफ 24 सितंबर को एक दिनी हड़ताल की घोषणा

बीएमएस को छोड़ सभी श्रमिक संगठनों ने पूरा कोयला उद्योग में 24 सितंबर को एक दिनी हड़ताल की घोषणा की है

केंद्र सरकार का फैसला के खिलाफ कोयला उद्योग में कार्यरत श्रमिक संगठनों ने पूरा कोयला उद्योग में एक दिनी हड़ताल की घोषणा कर दिया ।

कोयला उद्योग में 100 फीसदी विदेश निवेश के केंद्र सरकार के फैसला के खिलाफ सभी मजदूर संगठनों ने आक्रामक रुख अख्तियार किया हुआ है और सभी इस फैसले के खिलाफ हैं

रांची में हुई बैठक के बाद कोयला उद्योग में कार्यरत 5 संगठनों आईएनटीयूसी, एचएमएस, एआईंटीयूसी, सीटू और एआईसीसीटीयू संगठनों के नेताओं ने एक स्वर से केंद्र सरकार के विनाशकारी फैसले के खिलाफ आगामी 24 सितंबर को कोलइंडिया की सभी अनुषंशी कंपनियों में हड़ताल करने की घोषणा कर दी है ।

हड़ताल की घोषणा के साथ ही मजदूर संगठनों द्वारा कर्मियों को लामबंद करने की तैयारी शुरू कर दिया है ।

अभी तक इस हड़ताल में बीएमएस के शामिल होने की खबर नहीं है ।

Last updated: सितम्बर 5th, 2019 by Pandaweshwar Correspondent

सभी पाठकों को नववर्ष की हार्दिक शुभकामनायें
हर रोज ताजा खबरें पढ़ने के लिए व्हाट्सऐप या ईमेल सबस्क्राइब कर लें
Whatsapp email
सबस्क्राइब कर चुके हैं तो यहाँ क्लिक करें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।