लूंगी तथा कुर्ता पहने वृद्ध को जय श्रीराम बोलने को कहा , तुलसीदास की चौपाई सुन उड़ गए होश

मिहिजाम । धर्म किसी पर लादा नहीं जा सकता है। जबरन धार्मिक नारा लगना लगवाना भी अपराध माना जाता है । ऐसा ही एक वाकया रविवार की सुबह लगभग साढ़े 8 बजे मिहिजाम के मस्जिद रोड में घटी।

मस्जिद रोड स्थित फल गोदाम के पास सड़क के दोनों तरफ ठेले थे। इसी वक्त चित्तरंजन की ओर से एक काले रंग की इयोन कार आई और ठेले के पास रुक गयी । कार में बैठे लोगों ने तौस में आकर एक लूंगी तथा कुर्ता पहने लगभग 70 साल के वृध्द को ठेला हटाने को कहा।

बुजुर्ग ने कहा कि साहब आपकी कार निकल जायेगी इसपर कार में बैठे लोगों बहस होने लगी और बुजुर्ग को मुस्लिम समझ कहा कि जय श्रीराम बोलो। तो बुजुर्ग ने एक बार जय श्रीराम कहा। फिर बोलने के लिये कहा तो बुजुर्ग ने इसका विरोध किया। बहस के क्रम में लोगों की भीड़ जमा हो गयी।

बुजुर्ग लालमोहन यादव ने कार में बैठे लोगों को जब जोर से “बैर न कर काहू सन कोई ,राम प्रताप विषमता खोई।” तुलसीदास की यह चौपाई सुनाई तो सबके होश उड़ गये। बुजुर्ग ने समझाया कि राम का धर्म कहता है कि किसी से वैर नहीं करो। राम से प्रेम करने वाले विषमता, आंतरिक भेदभाव फैलाते नहीं मिटाते हैं ।

15 मिनट के नोक झोंक के बाद बुजुर्ग से ज्ञान पाकर कार में बैठे लोग मौके से नौ दो ग्यारह हो गये। सूचना पाकर मिहिजाम पुलिस मौके पर पहुँची तथा शिकायत दर्ज की।

लोगों ने बताया कि कार में सवार सभी चित्तरंजन के रहने वाले लगते हैं उनका कार भी कहीं दुर्घटनाग्रस्त हुई है। जिसे बनवाने के लिये मिहिजाम में रोड कार गयी थी। पुलिस कार की तलाश कर रही है।

मौके पर कॉंग्रेस के युवा नेता दानिश रहमान, वार्ड पार्षद फाहिम मल्लिक ने कहा कि यहाँ आपसी भाईचारे को कोई आँख दिखाए तो बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।

इस खबर के प्रायोजक हैं : Bengal Press - Asansol

यहाँ सभी प्रकार की मल्टी कलर ऑफसेट , स्क्रीन एवं फ़्लेक्स की प्रिंटिंग सबसे कम कीमत पर की जाती है।
Last updated: जुलाई 1st, 2019 by Om Sharma
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।