लॉक डाउन के मद्देनजर कालाबाजारी की रोकथाम के लिए प्रशासन ने चलाया दुकानों में सर्च अभियान

कोरोना वायरस के रोकथाम व बचाव को लेकर प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। 22 मार्च के मध्य रात्रि से लॉक डाउन होने के बाद प्रशासन के द्वारा कहीं भी अत्यधिक भीड़ लग नहीं दिया जा रहा है। शहर के नरेंद्र घातक रोड स्थित बासुकीनाथ इंडियन गैस में लगातार भीड़ होने की खबर पर मंगलवार को गैस ऑफिस पहुँचकर कार्यपालक दंडाधिकारी संजय कुमार सिन्हा और इंस्पेक्टर इंचार्ज सत्येंद्र प्रसाद कार्यालय को बंद करवाया। साथ ही गैस संचालक को कड़ी हिदायत देते हुए कहा कि किसी भी हाल में गैस ऑफिस के बाहर भीड़ लगने नहीं दिया जाए। गैस संचालक को निर्देश दिया कि सभी को गैस होम डिलीवरी करें ताकि गैस ऑफिस में अनावश्यक भीड़ ना हो। अगर इसके बाद भी गैस उपभोक्ताओं के द्वारा ऑफिस के बाहर भीड़ लगाती है तो प्रशासन के द्वारा कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाएगी।

कालाबाजारी की रोकथाम को लेकर प्रशासन ने चलाया कई दुकानों में सर्च अभियान

मंडी में जांच करते अधिकारी

लॉकडाउन को लेकर व्यापारियोंं के द्वारा कालाबाज़ारी के रोकथाम के लिये अनुमंडल दंडाधिकारी संजय कुमार सिन्हा और थाना प्रभारी सतेंद्र प्रसाद की टीम शहर के कई मंडी , शांति निकेतन और हटिया मंडी में सर्च अभियान चलाया। सभी दुकानदारों से राशन के किसी भी सामान में अत्यधिक मूल्य नहीं लेने का निर्देश दिया ।वहीं सभी दुकानदारों से अपने दुकान के बाहर सभी सामानों के मूल्य सूची लगाने की बात कही। ज्ञात हो कि बीते दिनों शहर में आलू अपने उचित मूल्य से लगभग दुगने दामों पर खरीद बिक्री हुई जिसकी सूचना के बाद यह सर्च अभियान चलाया गया।

एसडीओ योगेंद्र प्रसाद ने बैठक पर स्थिति का जायजा लिया

चैंबर ऑफ कॉमर्स के सदस्यों के साथ बैठक करते एसडीओ योगेन्द्र प्रसाद

मंगलवार को नावेल कोरोना के रोकथाम व बचाव को लेकर अनुमंडल कार्यालय कक्ष में अनुमंडल पदाधिकारी योगेंद्र प्रसाद की अध्यक्षता में चैंबर ऑफ कॉमर्स के सदस्यों की एक बैठक आयोजित की गई। इस दौरान एसडीओ ने कहा कि 22 मार्च के मध्य रात्रि से झारखंड सरकार के द्वारा लॉकडाउन करने के बाद बाजार को पूरी तरह बन्द कर दिया गया है। लेकिन सरकार के द्वारा आवश्यक खाद्य सामग्री दुकान खुले रहने के आदेश के बाद उत्पन्न हुए कालाबाज़ारी को रोकने की सूचना के बाद सभी थोक व खुदरा विक्रताओं को एसडीओ ने शख्त हिदायत दिया । उन्होंने कहा किसी भी खाद्य की कालाबाज़ारी नहीं होनी चाहिए।

सुबह 7:00 से दोपहर 1:00 बजे तक खुली रहेगी आवश्यक वस्तुओं की दुकान

एसडीओ ने कहा आवश्यक सामग्री की सभी दुकानें सुबह 7:00 से दोपहर 1:00 बजे तक खुली रहेगी। इस अवधि में सभी लोगों को अपने आवश्यकता के अनुसार सामानों का क्रय कर लेना है। उसके पश्चात इन चीजों का कोई भी दुकान खुला नहीं रहेगा, ताकि इन चीजों के क्रय करने हेतु लोग अपने घरों से बाहर न निकलें। अत्यधिक जरूरत होने पर घर से एक व्यक्ति ही निकलें, इसके अलावे सभी आलू-प्याज़ के थोक व खुदरा विक्रेताओं को कालाबाज़ारी को लेकर कड़ी हिदायत दिया गया।

साथ ही उन्होंने जानकारी दी कि लाॅक डाउन के दरम्यान स्वास्थ्य, चिकित्सा व दवाई दुकान 24 घंटे खुले रहेंगे। आवश्यक आस्मिक सेवाओं के संचालन में लगे वाहनों को छोड़कर अन्य सार्वजनिक निजी वाहनों का संचालन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा।

मौके पर कार्यपालक दंडाधिकारी संजय कुमार सिंह, बीडीओ अंनत कुमार झा,कार्यपालक पदाधिकारी शुशील कुमार,सीओ मनीष कुमार,इंस्पेक्टर इंचार्ज सतेंद्र प्रसाद,चैम्बर ऑफ कॉमर्स मोती सिंह,मुकेश अग्रवाल,उत्तम मोहनका,मुकेश अग्रवाल, विनोद लछीरामका,कन्हैया लाल कन्नू,दीपक बथवाल,अमर चौधरी,राकेश जयसवाल,पप्पू चौधरी, आदित्य लछिरामका, अरुण कलबलिया,रॉकी सिंघनिया, अशोक टिबड़ेवाल, दीपक बथवाल,शेखर लछिरामका, रामु बथवाल,सुंदर चौधरी, आदिल रसीद आदि व्यवसाय मौजूद थे।

Last updated: मार्च 25th, 2020 by Ram Jha
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।