झारखंड चेकपोस्ट पर कोविड टेस्ट के नाम पर हो रही खानापूर्ति

कोविड टेस्ट के नाम पर पश्चिम बंगाल से झारखंड जाने वाले यात्रियों को परेशान किया जा रहा है और सोशल डिस्टेंसिंग का मज़ाक बनाया जा रहा है। पश्चिम बर्द्धमान जिला के डिब्रुदिह चेक पोस्ट पर कुछ गाड़ियों को छोड़ दिया जा रहा है और कुछ गाड़ियों में मौजूद कुछ लोगों का ही टेस्ट करके छोड़ दिया जा रहा है। गाड़ी के ड्राइवर को कोविड़ टेस्ट से बाद कर दिया जा रहा है। बच्चों और बुजुर्गों का भी कोवीड टेस्ट नहीं किया जा रहा है।

झारखंड सरकार के आदेशानुसार पहले सिर्फ बराकर चिरकुंदा सीमा पर ही कोविद टेस्ट किया जा रहा था। लेकिन अब दिब्रू डिह चेक पोस्ट पर भी एगारकुंड ब्लाॅक द्वारा कोवीद टेस्ट किया जा रहा है और यात्रियों को परेशान तथा सोशल डिस्टेंस की धज्जियाँ उड़ाई जा रही है।

Last updated: अक्टूबर 12th, 2020 by News-Desk Asansol
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।