बीसीसीएल सीवी एरिया: दहीबाड़ी प्रोजेक्ट में रंगदारी और वर्चस्व की लड़ाई को लेकर झामुमो-मासस समर्थक भिड़े,दर्जनभर जख्मी

धनबाद -सीवी एरिया के दहीबाड़ी प्रोजेक्ट में रंगदारी और वर्चस्व की लड़ाई को लेकर शनिवार को मासस व झामुमो समर्थकों के बीच जमकर मारपीट हुई.इस दौरान दोनों ओर से लाठी-डंडे से लेकर तीर और पत्थर तक चले.घटना से दर्जनभर लोग जख्मी हो गये.घटना बीसीसीएल दहीबाड़ी प्रोजेक्ट के आउटसोर्सिंग पेंच बी में हुई.इस वर्चस्व की लड़ाई में जेएमएम समर्थक भारी पड़े.मासस के लोगों को वहाँ से पीछे भागना पड़ा. झड़प के बाद प्रोजेक्ट के आसपास में तनाव बना हुआ है.सीआइएसएफ और पंचेत ओपी की पुलिस कैंप किये है.

झामुमो समर्थक पड़े भारी

मासस और झामुमो दोनों तरफ से पंचेत ओपी में एक दूसरे के खिलाफ एफआइआर के लिए आवेदन दिया है. प्रोजेक्ट में पहले से झामुमो का वर्चस्व स्थापित है.मासस अपना वर्चस्व स्थापित करना चाहती है.मासस ने शनिवार को आउट सोर्सिंग पेंच बी के पास प्रदर्शन का कार्यक्रम आयोजित किया था.वहाँ झामुमो समर्थक प्रदर्शनकारियों को आगे आने से रोकने लगे.इसको लेकर दोनों और से धक्का-मुक्की, गाली-गलौज के बाद दोनों ओर से लाठी-डंडा चलने लगे.कुल्हाड़ी एवं तीर का भी इस्तेमाल किया गया.झड़प को कंट्रोल करने में पंचेत ओपी पुलिस विफल रही.कई थानों की पुलिस बल की सख्ती के बाद स्थिति नियंत्रित हुई.

दोनों पक्ष ने एक दूसरे पर लगाये आरोप

पूर्व विधायक अरूप चटर्जी का कहना है कि इस घटना को लेकर पुलिस जिम्मेवार है.पहले भी घटना घट चुकी थी.झामुमो समर्थकों ने कुल्हाड़ी से वार किया.इसमें कई कार्यकर्ता घायल हुए है.आउट सोर्सिंग कंपनी लोगों को लड़वा रही है.हमारे कार्यकर्ता शांति पूर्ण आंदोलन के लिये गये थे.झामुमो नेता बोदी हांसदा ने कहा कि घटना के लिये सीधे तौर पर अरूप चटर्जी जिम्मेवार है. विस्थापित अपने हक के लड़ाई के लंबे अरसे से लड़ रहे है.अरूप चटर्जी बाहरी को नियोजन देकर राजनीति लाभ लेना चाहते है.

Last updated: दिसंबर 5th, 2021 by Arun Kumar
Arun Kumar
Bureau Chief, Jharia (Dhanbad, Jharkhand)
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।