दुर्गापूजा पंडाल में ग्रामीण परिवेश के साथ-साथ केंद्रीय एवं राज्य सरकार के विभिन्न योजनाओं के भी दर्शन होंगे

चित्तरंजन शहर में दुर्गापूजा उत्सव की रौनक धीरे-धीरे बढ़ने लगी है। शहर के एरिया 6 पूजा दुर्गापूजा कमिटी के लिए आकर्षक पंडाल का निर्माण किया जा रहा है। इसमें लोगों को ग्राम्य जीवन की झलक दिखेगी।

कमिटी के अध्यक्ष बाप्पा कुंडू ने बताया कि चित्तरंजन की यह 68 वीं वार्षिक पूजा है। दुर्गापूजा में झारखंड के ग्रामीण परिवेश की झलक इस पंडाल पर चौतरफा दिखेगी। इसी तर्ज पर भीतरी भाग को को काफी आकर्षक बनाया जा रहा है।

दुर्गापूजा पंडाल में ग्रामीण परिवेश को दर्शाया गया है

पंडाल निर्माण का कार्य चंदननगर एवं कचरा पड़ा के कलाकार को सौंपा गया है। डेकोरेशन और पंडाल में लगभग लाख खर्च करने का लक्ष्य रखा गया है। माँ दुर्गा की प्रतिमा की सजावट भी इस वर्ष ग्रामीण परिवेश के आधार पर ही की जा रही है।

ग्रामीण परिवेश में इस साल सबुजायन को दखते हुए बृक्ष हराभरा ग्रामीण रूप दिया गया, साथ ही 100 से अधिक मॉडल द्वारा इस मण्डप को सजाया गया ।इस ग्रामीण परिवेश के साथ-साथ केंद्रीय सरकार एवं राज्य सरकार के विभिन्न योजनाओं को भी दर्शाया गया है ।

Last updated: अक्टूबर 1st, 2019 by kajal Mitra

हर रोज ताजा खबरें पढ़ने के लिए व्हाट्सऐप या ईमेल सबस्क्राइब कर लें
Whatsapp email
सबस्क्राइब कर चुके हैं तो यहाँ क्लिक करें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।