जहरीली गैस के साए में स्कूल, बच्चों को पानी पीने के लिए भी जाना पड़ता है घर

धनबाद: झरिया में कुजामा के सेंट्रल मध्य विद्यालय की हालात कितनी खराब है इसका अंदाजा आप इसी बात से लागा सकते हैं कि बच्चे वहाँ खाना तो खा लेते हैं, लेकिन पानी हाथ धोने और पानी पीने के लिए उन्हें घर जाना पड़ता है. यही नहीं, स्कूल कंपाउंड के अंदर भूमिगत आग के कारण जहरीली गैस का भी रिसाव होता है जिससे बच्चे परेशान हैं.

बच्चों को पीने के लिए पानी नहीं.

झरिया नगर निगम के अंतर्गत इस विद्यालय में लगभग 15 वर्षों से पानी की समस्या बनी हुई है. खाना बनाने वाली महिलायेंं बताती है कि रात के 12 बजे से पानी के लिए लाइन में लगना होता है. यही नहीं स्कूल में नहीं होने से खाना बनाने के बाद बच्चों को हाथ धोने और पानी पीने के लिए मजबूरी में घर जाना पड़ता है.

वहीं, यही नहीं स्कूल में शौचालय भी व्यवस्था नहीं है, शौच के लिए बच्चों को घर जाना पड़ता है जिससे पढ़ाई भी बाधित होती है. इधर, स्कूल की महिला टीचर का कहना है कि वह मजबूरी में बाहर या फिर अगल-बगल के घर में जाने को विवश हैं. उन्होंने बताया कि इससे उन्हें काफी शर्मिंदगी महसूस होती है.

जब इन सारी सम्सया को लेकर विद्यालय समिति के अध्यक्ष विजय भुइयाँ ने बताया कि पानी की समस्या को लेकर उच्च अधिकारियों के पास लिखित और मौखिक सभी तरह की शिकायतें की गई है. इसके बावजूद इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है.

Last updated: फ़रवरी 16th, 2019 by Pappu Ahmad

Pappu Ahmad Pappu Ahmad
Correspondent, Dhanbad
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।