आई.एन.टी.यू.सी पेट्रोल पंप में चिपकाया “नरेंद्र मोदी वसूली केंद्र”, प्रधानमंत्री का पुतला जलाया

पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों के विरोध में एक बार फिर आई.एन.टी.यू.सी ने भाजपा सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। सोमबार को चित्तरंजन में आई.एन.टी.यू.सी पार्टी के नेतृत्व में चित्तरंजन चिल्ड्रन पार्क के मुख्य सड़क जाम कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया गया। पुतला दहन के दौरान आई.एन.टी.यू.सी के सभी लोगों ने मोदी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की ओर मोदी सरकार पर गरीब व्यक्ति के साथ छलावा करने का आरोप भी लगाया। पुतला दहन करने से पहले प्रधानमंत्री का प्रतीकात्मक पुतले को लेकर पूरे क्षेत्र में जुलूस निकाला और लोगों को मोदी सरकार की जनविरोधी नीतियों से रूबरू कराया। साथ ही पेट्रोलपंप में लगे पोस्टर में ‘नरेंद्र मोदी वसूली केंद्र” लिखा हुआ एक पोस्टर चिपकाया गया ।

प्रधानमंत्री का पुतला जलाते कांग्रेस कार्यकर्ता

शहर चित्तरंजन के आई.एन.टी.यू.सी के एसिस्टेंट जेनेरल सेक्रेटरी तथा स्टाफ काउंसिल के मेम्बर नेपाल चक्रबर्ती का कहना था कि अपने आप को गरीबों का हितैषी बताने वाली मोदी सरकार गरीबों का ही शोषण करने लगी है। लगातार पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी हो रही है जिससे खाद्य सामग्री महंगी होने लगी है। पेट्रोल और डीजल के कितने दाम किसी भी सरकार में नहीं बड़े थे लेकिन मोदी सरकार में तो इसका रिकॉर्ड टूट गया है। सेंट्रल कमिटी के प्रेसिडेंट इंद्रजीत सिंह का कहना था कि पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी कर मोदी सरकार ने आम व्यक्ति के प्लेट से खाना छीनने का काम किया है। जीएसटी और नोटबंदी के कारण पहले ही कारोबार ठप पड़े हुए हैं और ऐसे में पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी होने से गरीब व्यक्ति की पूरी तरह से कमर टूट गई है।

फिलहाल आई.एन.टी.यू.सी ने साफ कर दिया है कि अगर मोदी सरकार पेट्रोल और डीजल के बढ़े दामों को वापस नहीं लिया तो यह आंदोलन और प्रदर्शन जारी रहेगा। मौके पर आई.एन.टी.यू.सी सेक्रेटरी देबासिष मजूमदार, उमेश मण्डल, सत्यनारायण मन्डल, समेत सैकड़ों जातीय कांग्रेस एवं युबा कांग्रेस के कर्मी समर्थक उपस्थित थे ।

Subscribe Our YouTube Channel for instant Video News Uploaded

Last updated: सितम्बर 12th, 2018 by kajal Mitra