अनुमंडलीय अस्पताल में कृमि मुक्ति अभियान की शुरूआत

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस शुक्रवार को अनुमंडलीय अस्पताल सभागार में बच्चों को कृमि की गोली एल्बेंडाजोल खिलाकर उपाधीक्षक डॉ० सुनील मरांडी ने अभियान की शुरूआत की। प्रखंड के सरकारी व निजी विद्यालय, आंगनबाड़ी केंद्र, प्राइवेट संस्थान में 1 से 19 वर्ष के बच्चों को अल्बेंडाजोल कृमि की दवा खिलाई गई।

84742 बच्चों को कृमि की दवा खिलाने का लक्ष्य

अस्पताल उपाधीक्षक डॉ० सुनील मरांडी ने कहा कि 300 सरकारी एवं निजी विद्यालय, 212 आंगनबाड़ी केंद्र एवं पाँच तकनीकी संस्थान के अलावे स्वास्थ्य उप केंद्र एवं अस्पताल में बच्चों को कृमि की दवा खिलाई गई। प्रखंड के 1 से 19 वर्ष तक के 84742 बच्चों को कृमि की दवा खिलाने का लक्ष्य था ।इसके लिए ए एन एम ,सभी सरकारी एवं निजी शिक्षक, 258 सहिया एवं सेविका को अभियान में लगाया गया है। अभियान की सफलता के लिए चार दिवसीय प्रशिक्षण शिविर 17 जनवरी से आयोजित की गई थी ताकि आंगनवाड़ी सेविका, शिक्षक एवं सहिया को एल्बेंडाजोल की दवा खिलाने में किसी भी प्रकार की परेशानी ना हो।

मॉनिटरिंग हेतु आयुष चिकित्सक डॉक्टर इकबाल एवं डॉक्टर करण को क्षेत्र भ्रमण कर निगरानी का निर्देश दिया गया है ताकि प्रतीकूल प्रभाव पड़ने पर बच्चे का आसानी से इलाज हो सके। अस्पताल उपाधीक्षक ने कहा कि 1 से 19 वर्ष के सभी बच्चों को एल्बेंडाजोल की गोली स्कूलों एवं आंगनवाड़ी केंद्रों में निःशुल्क खिलाई गी। छूटे हुए बच्चों को 14 फरवरी को अल्बेंडाजोल की गोली खिलाई जाएगी। यह गोली कृमि नियंत्रण में मदद करती है ।कृमि परजीवी होते हैं जो जीवित रहने के लिए मनुष्य की आंत में रहते हैं। कृमि के संक्रमण होने से बच्चों में खून की कमी, कुपोषण, भूख न लगना, कमजोरी और बेचैनी ,पेट में दर्द ,जी मिचलाना उल्टी और दस्त आना, वजन में कमी जैसे लक्षण दिखाई देते हैं।

इस अभियान में प्रधान लिपिक उत्तम पियूस, रूपेश कुमार, चित्रा देवी, मुनिया मरांडी, संगीता कुमारी, दामोदर वर्मा, संतोष कुमार सुधांशु, महेंद्र प्रसाद ,इमरान अंसारी ,नुनू राम बेसरा, शंकर कॉल समेत प्रशिक्षु डीएमएलटी, डीओ टीटी एवं जीडीए उपस्थित थे।

Subscribe Our YouTube Channel for instant Video News Uploaded

Last updated: फ़रवरी 8th, 2019 by NewsLine Madhupur