रेलवे के अतिक्रमण हटाओ अभियान से उजड़े दुकानदारों को गोमो शहीदगढा में बसाने की मांग

आम आदमी पार्टी सह यूथ फ़ोर्स के प्रधान संयोजक किसान नेता दीपनारायण सिंह मंगलवार को मंडल रेल प्रबंधक, धनबाद से मिलकर फूटपाथ दुकानदार भाइयों को गोमो शहीदगढा में बसाने को लेकर आवेदन पत्र सौंपा , साथ ही साथ प्रधानमंत्री, रेलमंत्री, मुख्यमंत्री, उपायुक्त धनबाद को भी ट्विटर के माध्यम से आग्रह किया।

इस दौरान दीपनारायण सिंह ने कहा कि वर्षों से फुटपाथ दुकानदार रेल नगरी गोमो में रेल की जमीन पर सब्जी, फल, मछली ,अंडा आदि ठेला-टोकरी में दुकान लगाकर अपना जीवन यापन करते आ रहे हैं । विगत जनवरी-फरवरी माह में रेल द्वारा अतिक्रमण हटाने के क्रम में सभी दुकानदारों को सदानंद मार्केट और सिकलाइन से हटाकर अस्थाई रूप से सब्जी मार्केट को रेलवे मैदान में बसाया गया था। वर्तमान में रेल प्रशासन द्वारा पुनः सभी दुकानदारों को रेलवे मैदान से हटा दिया गया है। अभी सभी दुकानदारों को रेल प्रशासन द्वारा दुकान लगाने के लिए कोई जगह उपलब्ध नहीं करवाया गया है। जिसके चलते रेल नगरी गोमो में अवस्थित रेल कर्मियों को भी फल, सब्जी ,मछली ,अंडा आदि के लिए परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

विदित हो कि हजारों रेलकर्मी गोमो रेल नगरी में रेल क्वार्टर में रहते हैं और रेलवे को सेवा दे रहे हैं। उसके बाद भी रेलकर्मी के लिए दैनिक आवश्यकता जैसी फल, सब्जी, मछली, अंडा, मुर्गा आदि के लिए कोई मार्केट कंपलेक्स नहीं है। दूसरी ओर फुटपाथ दुकानदार भाइयों के पास रोजी-रोजगार छिन जाने से परिवार के समक्ष भूखमरी की स्थिति में हो गई है। ऐसे भी वैश्विक महामारी कोरोना के चलते सबसे अधिक गरीब मजदूर-किसान प्रभावित हुआ है। ऊपर से फुटपाथ दुकानदार साथियों का रोजगार छीन जाने से सब्जी विक्रेता हताश और निराश है।

Last updated: जुलाई 8th, 2020 by Nazruddin Ansari
Nazruddin Ansari Nazruddin Ansari
Correspondent- Gomoh(Dhanbad)
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।