मेले में सिलिन्डर फटने से बेलून विक्रेता की मौत, तीन बच्चों का परिवार हुआ बेसहारा

cylinder-blast-mihijam

ब्लास्ट जैसा था विस्फोट, भगदड़ में 40 लोग घायल

जामताड़ा ब्यूरो। मिहिजाम रेलपार स्थित निमाईकुटी में आयोजित वासंती दुर्गोत्सव मेला के अंतिम दिन रविवार रात लगभग पौने 8 बजे एक गैस बैलून विक्रेता की मौत सिलिंडर के फटने से घटना स्थल पर ही हो गयी थी। विस्फोट इतना भयावह था कि मेले में भगदड़ मची। करीब 40 लोग भगदड़ में घायल हुए । दर्जन भर लोग गैस के चपेट में आकर घायल हो गये। सभी को तत्काल स्थानीय स्वास्थ्य केंन्द्र में भर्ती कराया गया। जहाँ से 4 लोगों को जामताड़ा सदर अस्पातल रेफर किया गया।

गैस सिलिंडर के फटने से विक्रेता का सिर के चिथड़े उड़ गये और घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया। धमाका इतना जोरदार था कि सिलिंडर भी हवा में टूट कर बिखर गये। मृत व्यक्ति की पहचान छाताडांगल निवासी कारू उर्फ धर्मेंद्र पासवान उम्र लगभग 38 वर्ष के रूप में हुई है। उसके तीन बच्चे हैं। जिनमें दो लडके सोनू उम्र 11 वर्ष तथा कन्हैया उम्र 6 साल है। जबकि 7 वर्षीय उसकी बेटी का नाम आरती है।

मौके पर उसकी पत्नी रिन्की देवी फूट फूट कर रो रही थी और बार-बार बेहोश हो रही थी। मिहिजाम में एम्बुलेंस की व्यवस्था न होने के कारण हंगामा खड़ा हो गया। मेले में फायर ब्रिगेड तथा एम्बुलेंस की व्यवस्था न होने पर सवाल ।

लोगों ने चंदा कर जुटाई मदद की राशि

इस दर्दनाक हादसे के बाद मेला प्रांगंण के घटनास्थल पर ही साढ़े 17 हजार रुपये तत्काल इलाके के गणमान्य लोगों ने चंदा इकट्ठा कर पीड़ित परिवार को दिया गया। मिहिजाम थाना प्रभारी गयानंद यादव ने पाँच हजार रुपये देने की बात कही। साथ ही दाह संस्कार का खर्च भी अलग से देने की बात कही।

सोमवार की दोपहर जामताड़ा बीडीओ अमृता प्रियंका एक्का ने 20 हजार की सहायता राशि छताडंगाल आकर पीड़ित परिवार के हाथों में सौंपा। यह राशि मृतक धर्मेन्द्र पासवान की माँ चांदू देवी के हाथों में दी गयी। चंदा इकट्ठा करने में सुबोध झा, बालमुकुन्द रविदास, सुरेश राय, नगर अध्यक्ष कमल गुप्ता, बंटू आइजक, 4 नंबर वार्ड पार्षद अरूण यादव ,झिमली मजूमदार, आरती सिन्हा, मनीष दूबे, राजेन्द्र शर्मा, व्यवसायी परवेज रहमान, बमभोला तिवारी, पवन वर्मा, प्रकाश रजक, आरती सिन्हा, राजेन्द्र शर्मा, शांति देवी, मनीष दूबे आदि लोगों का सराहनीय योगदान रहा। इस सबंध में थाना प्रभारी ने बताया कि यूडी केस का मामला दर्ज हुआ है। सोमवार को मृतक का दाह संस्कार कार्य किया गया।

अब कौन बनेगा सहारा ?

मृतक की पत्नी रिंकी देवी ने बताया कि रविवार को मैंने अपने पति को मेला जाने से मना किया था, बावजूद वे गये । वे अपने साथ अपने बड़ा लड़का सोनू को भी ले गये थे। जिस वक्त घटना घटी सोनू घूम-घूम कर बैलून बेच रहा था अन्यथा अगर वह भी मौके पर रहता तो उसकी भी जान जा सकती थी। उसने बताया कि उसेक पति अपने बच्चों को पढ़ा-लिखाकर बड़ा आदमी बनाना चाहते थे लेकिन वहीं चले गये, अब परिवार का सहारा कौन बनेगा।

छेड़खानी की घटना के बाद बेटी को नहीं भेजती स्कूल

मृत धमेन्द्र पासवान की पत्नी रिंकी देवी ने बताया कि 7 वर्षीय उसकी बेटी आरती अब स्कूल नहीं जाती क्योंकि पहले मालपाड़ा में छेड़खानी की घटना घटी थी जिसके बाद उसे अब स्कूल नहीं जाने देती।

कई तरह की फैल रही हैं अफवाह

गैस सिलिंडर ब्लास्ट की घटना के बाद बाजार में यह भी चर्चा है कि यह दैवी प्रकोप है। 20 सालों से निमाईकुठी में मेला लगते रहा है लेकिन इस प्रकार की घटना नहीं हुई।

ब्लास्ट का वीडियो हुआ वायरल

मिहिजाम निमाई कोठी में आयोजित 10 दिवसीय बसंती दुर्गापूजा के अन्तिम दिन रविवार को लोग आनन्दपुर्वक मेले का वीडियो बना रहे थे तभी अचानक ब्लास्ट का वीडियो कैद हो गया। जिसमें लोग भगदड़ करते हुए दिख रहे हैं।

Last updated: अप्रैल 16th, 2019 by Om Sharma
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।