नौकरी के झांसे में बैंक खाता खुलवाया फिर उसमें मंगाए साइबर क्राइम के पैसे , खाता फ्रीज़ , परेशानी में खाताधारक

पंचेत: एक ओर कोरोना माहमारी को लेकर लोग परेशान है, जरूरत मंदो को लोग मदद कर रहे है। वहीं इस माहमारी में साइबर अपराधी भी सक्रिय हो गए है। एक सायबर अपराधी ने नजाकत फ़ायदा उठाते हुए बाबू डंगाल मोड़ के राजमिस्त्री सुबल राय उर्फ तेजू को नौकरी का झांसा देकर आइसीआइसीआई चिरकुंडा शाखा में खाता खुलवाया और एटीएम व चेकबुक अपने पास रख लिया।

इस दौरान एक सप्ताह में साइबर अपराधी ने गलत ढंग से खाते में पैसे मंगा कर उठाव के बाद बैंक ने खाते को सीज कर दिया। इधर बैंक द्वारा इसकी सूचना खता धारक मजदूर को देने के बाद मजदूर हक्के बक्के रह गये। मजदूर ने इस संबंध में चिरकुंडा थाना में लिखिति शिकायत दर्ज कराया है।

जानकारी के अनुसार सायबर अपराधी ने सुबल राय उर्फ तेजू राय 35 वर्षीय युवक से कहा कि लॉकडाउन में काम नहीं है तो मैं तुम्हें काम दूंगा। वह अपराधी के झांसे में आ गया। पहले उसने कहा कि तुम बैंक में खाता खुलवाओ। तुम्हारा मजदूरी इसमें आयेगा। उसने उसके बात को मानते हुए आइसीआइसीआई बैंक चिरकुंडा शाखा में 8 मई को खाता सांख्या 141001504746 खुलवाया गया। उसने सिर्फ बैंक के कागजात में हस्ताक्षर किया।

लेकिन अपराधी ने धोखे से बैंक में अपना मोबाइल नंबर दे दिया। इसके बाद बैंक द्वारा उपलब्ध चेक बुक भी अपने पास रख लिया। अपराधी ने उसे दहीबाड़ी वाशरी के पास छोड़ दिया।

रही कि युवक को कुछ शंका होने के बाद उसने मोटरसाइकिल का फोटो खींच लिया। जिसका रजिस्ट्रेशन नंबर जेएच 10 ए डब्लू 2501 है। उसके बाद से ही सुबल ने काम को लेकर लगतार सायबर अपराधी को मोबाइल नंबर 9060545439 पर संपर्क किया लेकिन उसने फोन नहीं उठाया। एक बार उठाया भी तो उसने व्यस्तता का हवाला देकर फोन काट दिया।

इसी बीच 14 मई को बैंक से फोन आया कि उसके खाते में फर्जी तरीके से पैसे आ रहे है। बैंक कर्मी रौशन कुमार उसके घर 14 मई को आकर मिला। बैंक कर्मी ने बताया कि उसके खाते में लाखों रुपये फर्जी ढंग से आये है। जिसके कारण खाता को फ्रिज कर दिया गया है। लेकिन भुक्तभोगी ने बैंक कर्मी को सारी सच्चाई बतायी। बैंक कर्मी ने बैंक आकर मिलने को कहा।

सुबल राय 15 मई को बैंक पहुँचा तो वह कर्मी नहीं मिला और छुट्टी में रहने की बात कही। उसने एक महिला कर्मी से मदद ली ।लेकिन उसे सिर्फ खाता संख्या बताया। उसके आधार पर फर्जीवाड़े को लेकर सुबल ने मुखिया अजय पासवान से अवगत कराया।

उसके बाद चिरकुंडा थाना में शिकायत दर्ज की गई। इधर रौशन कुमार से पूछने पर बताया कि उसके खाते में फर्जी पैसे आने को लेकर खाता फ्रिज किया गया है। बैंक अधिकारी का कहना है कि मुम्बई से मेल 13 को आया था कि इस खाते से सायबर क्राइम का पैसा गया है। इसके बाद खाता फ्रिज किया गया। अपराधी ने तीन चार अन्य के के साथ भी धोखाधड़ी की है। उसके खाते को भी फ्रिज किया गया है।

मोटरसाइकिल का नंबर सर्च करने के बाद उनमें मासूम बीबी यामाहा मोटरसाइकिल का नाम आ रहा है।

इस खबर के प्रायोजक हैं : Bengal Press - Asansol

यहाँ सभी प्रकार की मल्टी कलर ऑफसेट , स्क्रीन एवं फ़्लेक्स की प्रिंटिंग सबसे कम कीमत पर की जाती है।
Last updated: मई 18th, 2020 by Sanjay Burman
Avatar Sanjay Burman
Correspondent from Panchet (Dist. Dhanbad , Jharkand)
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।