झारखंड से आए हमलावर , पुलिस को मारी गोली और झारखंड हो गए फरार

आसनसोल साउथ थाना के एक पुलिसकर्मी को अपराधियों ने गोली मार दी। गंभीर रूप से घायल पुलिस कर्मी को दुर्गापुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है।

घटना बीते रविवार देर रात की है जब आसनसोल साउथ थाना के पुलिसअधिकारी संदीप पाल दो सिविक वालंटियर के साथ स्टेशन रोड पर गश्ती में थे। उसी दौरान एक ऑटो से तीन युवक उतरे। तीनों को संदेहास्पद स्थिति में देख कर पुलिस अधिकारी ने पूछताछ की तो तीनों ने हमला कर दिया। पहले बंदूक की बट से सिविक वालंटियर को घायल कर दिया फिर कई राउंड गोली चला दी। जिसमें एसआई संदीप पाल और गश्ती वाहन का ड्राइवर घायल हो गए। बंदूक की आवाज सुनकर अन्य पुलिसकर्मी घटनास्थल पर दौड़े, तब तक आरोपी फरार हो चुका था।

पुलिस सूत्रों के अनुसार हमलावर जमशेदपुर से आए थे और सोनू सिंह गिरोह से थे। पुलिस सूत्रों कि ही यदि मान लें कि हमलावर जमशेदपुर से आए थे तो यह बात और भी चिंताजनक है कि आसनसोल से करीब डेढ़ सौ किलो मीटर दूर से आरोपी हथियार लेकर बंगाल की सीमा से करीब 20 किलो मिटटी अंदर आ गए। हथियार से लैस पुलिस अधिकारी को गोली मार कर घायल कर दिये और फिर वापस बंगाल की सीमा को पार करते हुये झारखंड भाग गए। जिस तरीके से उन्होंने पुलिस जवान पर हमला कर दिया, उससे यह साफ है कि वे किसी बड़ी मकसद से आए थे और यदि पुलिस से मुठभेड़ न हुई होती तो किसी बड़ी वारदात को अंजाम दे रहे होते।

सुरक्षा का आलम यह है कि जब घटना की पड़ताल के लिए पुलिस नेसीसीटीवी कैमरे खँगालने की कोशिश की तो वह भी खराब थी।

रेलवे स्टेशन परिसर के सीसीटीवी कैमरे की मदद से आरोपी की पहचान कर लेने का दावा किया गया है। हमला कर सभी आरोपी झारखंड भाग गए । इस घटना ने इलाके की सुरक्षाव्यवस्था पर एक सवालिया निशान लगा दिया है। पुलिस ने आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लेने की बात कही है।

 

Last updated: दिसम्बर 2nd, 2019 by Rishi Gupta

हर रोज ताजा खबरें पढ़ने के लिए व्हाट्सऐप या ईमेल सबस्क्राइब कर लें
Whatsapp email
सबस्क्राइब कर चुके हैं तो यहाँ क्लिक करें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।