बैंकों के विलय के विरोध में बुलाई गयी दो दिन की बैंक हड़ताल टली

आम आदमी के लिए राहत की खबर, दो दिन की बैंक हड़ताल टली

बैंक ट्रेड यूनियनों ने प्रस्तावित 26 और 27 सितंबर की हड़ताल टाल दी है. बैंक यूनियनों ने 10 बैंकों के विलय के विरोध में हड़ताल पर जाने का ऐलान किया था.

यह हड़ताल यूनियन लीडर्स और वित्त सचिव राजीव कुमार के बीच हुई बैठक के बाद टली है. बैंक यूनियनों का कहना है कि सरकार ने उनकी मांगों को गंभीरता से लिया है और उस विचार करने का आश्वास दिया है.

बातचीत के बाद हड़ताल टली

दरअसल बैंक ऑफिसर्स की चार यूनियनों ने 26 सितंबर से दो दिनी हड़ताल की घोषणा की थी. यूनियन ने हड़ताल में बैँकों का विलय के विरोध के साथ ही 11वां वेतन समझौता लागू करने की मांग है.

चार बैंक यूनियनों से बुलाई थी हड़ताल

बैंकिंग सेक्‍टर के चार ट्रेड यूनियन संगठनों ने 25 सितंबर की आधी रात से 27 सितंबर की मध्यरात्रि तक हड़ताल बुलाई थी. जिसमें ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कन्फेडरेशन, ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशंस, इंडियन नेशनल बैंक ऑफिसर्स कॉंग्रेस और नेशनल ऑर्गेनाइेशन बैंक ऑफिसर्स शामिल थे.

बैंकों के विलय के विरोध में यूनियन

गौरतलब है कि पिछले महीने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बैंकों के विलय का ऐलान किया था. उन्होंने कहा था कि सरकारी क्षेत्र के 10 बैंकों का विलय करके 4 बैंक बनाए जाएँगे. सरकार के इस फैसले का बैंकिंग सेक्टर के अलग-अलग ट्रेड यूनियन विरोध कर रहे हैं. यूनियनों का कहना है कि इससे हजारों नौकरियाँ जाने के साथ ही नॉन परफार्मिंग असेट (NPA) भी बढ़ेगा.

Last updated: सितम्बर 23rd, 2019 by Ravi kumar Verma
हर रोज ताजा खबरें पढ़ने के लिए व्हाट्सऐप या ईमेल सबस्क्राइब कर लें
Whatsapp email
सबस्क्राइब कर चुके हैं तो यहाँ क्लिक करें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।