कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ली गई बी.एड. की परीक्षा

मधुपुर (देवघर)। मधुपुर महाविद्यालय में शुक्रवार से बीएड द्वितीय वर्ष की परीक्षा शांतिपूर्ण व कदाचार मुक्त माहौल में शुरू हुई । कोविड-19 को देखते हुए यूजीसी की गाइडलाइन के अनुरूप एसओपी के सभी नियमों का पालन करते हुए परीक्षा ली गई।

केन्द्राधीक्षक डॉ० रत्नाकर भारती ने कहा कि छात्र-छात्राओं को मुख्य द्वार से ही उनके प्रवेश पत्र को जाँच कर प्रवेश करने दिया गया है। उसके साथ ही मुख्य द्वार पर शारीरिक दूरी का पालन कराते हुए थर्मल स्कैनिंग के द्वारा उनकी जाँच की गई व सैनिटाइज किया गया। सभी कक्षाओं को नगर परिषद के द्वारा सेनेटाइज किया गया।

कुल 17 कक्षाओं में 304 परीक्षार्थियों की परीक्षा ली गई। यहाँ मधुस्थली टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज ,चाणक्या बीएड कॉलेज, राहत बीएड कॉलेज का परीक्षा केंद्र बनाया गया है। जिसमें कुल 306 छात्र में 2 छात्र अनुपस्थित रहे। शारीरिक दूरी का पालन करने के लिए एक बेंच छोड़कर सीटिंग अरेंजमेंट किया गया था। कोविड के दौरान परीक्षा का संचालन करना काफी चुनौतीपूर्ण रहा। लेकिन महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ० रंजीत कुमार, परीक्षा नियंत्रक रंजीत कुमार प्रसाद समेत सभी शिक्षक व शिक्षकेतर कर्मियों के पूर्ण सहयोग से परीक्षा शांतिपूर्ण एवं कदाचार मुक्त वातावरण में सम्पन्न हुई। महाविद्यालय प्रशासन द्वारा किसी भी वाहन को परिसर में प्रवेश करने नहीं दिया गया।

Last updated: सितम्बर 25th, 2020 by Ram Jha
Ram Jha Ram Jha
Correspondent , Madhupur (Jharkhand)
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।