भाजपा विधायक ढुल्लू समर्थको के घर पर अंधाधुंध फायरिंग बमबाजी , आजसु जिलाध्यक्ष मंटू महतो के खिलाफ केस दर्जजाँच को पहुँचे एसएसपी मिंज

विधायक प्रतिनिधि दिनेश और समर्थक शिवा के घर हमला

एसएसपी धनबाद

लोयाबाद/एकड़ा में विधायक ढुल्लू महतो के प्रतिनिधि दिनेश रावानी व समर्थक शिवा दास के घर पर हमला हुआ है। शिवा दास के यहाँ करीब 10 बजे व दिनेश रावानी के घर पर 2 बजे हमले की बात कही जा रही है। 30 से 40 राउंड फायरिंग और बमबाजी कर दहशत फैलाया गया। घटना स्थल से पुलिस 13 खोखा व 2 जिंदा गोली मिले हैं। टांगी या कुल्हाड़ी से दी दिनेश रावानी के में गेट पर वार के कई निशान नजर आ रहा है। हमले में पत्थर की बौछार भी की गई है।घटना रात दो बजे की बताई जा रही है।लोयाबाद थाना प्रभारी चुन्नू मुर्मू सदल बल मौके वारदात पर पहुँच कर खोखा व दो जिंदा गोली बरामद किया बम के अवशेष भी पुलिस को मिली है।पुलिस रात में ही एकड़ा बस्ती के कई घरों में छापेमारी की है।लेकिन कोई नहीं मिला,एक हाइवा में चालक सो रहा था पुलिस उसे उठा ले आई, करीब 3 बजे मछली पकड़ने जा रही एक मल्लाह को पकड़ का थाना ले गई। हालांकि दोनों को सुबह में पूछताछ के बाद पीआर बांड भर कर छोड़ दिया गया।

एसएसपी अशिम विक्रांत मिंज ने बिगड़ती विधि व्यवस्था को लेकर लोयाबाद पुलिस को फटकार लगाया

रात में घटनास्थल पर घर की जाँच करती पुलिस

एसएसपी अशिम विक्रांत मिंज खुद घटना की जाँच करने लोयाबाद पहुँचे उन्होंने लोयाबाद पुलिस को घटना में संलिप्त आरोपियों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया। उन्होंने पुलिस को गश्ती तेज करने। गाड़ी के साथ-साथ पैदल मार्च करने को कहा। अब तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर नाराजगी भी जताई। लोयाबाद में बिगड़ती विधि व्यवस्था को लेकर पुलिस को फटकार लगाया।

सुबह 6 बजे विधयाक ढुल्लू पहुँचे एकड़ा,पुलिस पर लगाया आरोप

अपने समर्थक दिनेश रवानी के घर पहुचे विधायक ढुल्लू महतो

घटना की खबर मिलते ही सुबह 6 बजे विधयाक ढुल्लू महतो दिनेश रावानी के घर पहुँच गए। उन्होंने ने पुलिस पर अपराधियों को सपोर्ट करने का आरोप लगया। और कहा कि जिला प्रशासन,गिरती व्यवस्था के जिम्मेदार हैं पुलिस, विधायक ने हमलावरों व साजिश कार्यकर्तओं के तरफ इशारा करते हुए कहा कायरों की तरह रात में हमला किया है। हिम्मत है तो दिन के उजाले में फ़रियाले।

जाँचो ऊपरांत कार्यवाही होगी डीएसपी मुकेश कुमार

लॉ एंड ऑर्डर मुकेश कुमार

करीब 11 बजे डीएसपी घटना स्थल एकड़ा पहुँचकर निरीक्षण किया। उन्होंने पत्रकारों से कहा जाँच चल रही है।जाँचो ऊपरांत कार्यवाही की जाएगी। लगातार हो रही यहाँ आपराधिक घटनाओं पर नजर है।सभी पर सीसीए के लिए अनुशंसा की जाएगी।

आजसु जिलाध्यक्ष मंटू महतो को बनाया गया आरोपी

जिन्दा गोली और खोखा बरामद

राजेश के आवेदन में मंटू महतो सहित 19 नामज़द लोगों को आरोपी बनाया गया है।सभी पर गोलियाँ एवं बम चलाकर घर में तोड़फोड़ का आरोप लगाया गया है।इसमें राजेश रवानी की शिकायत पर आजसु जिला अध्यक्ष मंटू महतो,संतोष महतो,शंकर केशरी,सुुभाष महतो,डिस्को महतो,प्रेजा मल्लाह,तुलेश्वर महतो उर्फ पप्पू महतो,गोलू सिंह उर्फ प्रिंस,धनेश्वर महतो,गोगल मल्लाह,जीवा मल्लाह,सोनू पासी उर्फ टाेपी,गणेश महतो,रोहित महतो,पन्नालाल सिंह,मिथुन तुरी,जितेन्द्र भुईयांं,जाटो भुईयांं,सागर पासी सहित 15–20 अज्ञात पर लिखित आवेदन दिया है। जिस पर काण्ड संख्या 69/20 में धारा 147,148,149,447,448,506,25 1-b/a,27/35 आर्मस एक्ट, 3/4 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया।

सूरज कुमार की शिकायत

वही एकड़ा हरिजन टोला के सूरज कुमार के शिकायत पर विक्की डोम,जाटो भुईयांं,संतोष महतो,शंकर केशरी,तुलेश्वर महतो,रोहित महतो,गणेश महतो,धनेश्वर महतो,तेजा मल्लाह,गोगल मल्लाह,जीवा मल्लाह,सुभाष महतो,सोनू पासी उर्फ टाेपी,पन्नालाल सिंह,सागर पासी,मिथुन तुरी,डिस्को महतो,गोलू सिंह उर्फ प्रिंस,देव उर्फ मिरिण्डा दास के खिलाफ आवेदन दिया है। जिस पर काण्ड संख्या में 68/20 में धारा 147, 148, 149,447, 448,506, 25 1-b/a, 27/35 आर्मस एक्ट, 3/4 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया।

घटना ढुल्लु महतो की राजनीतिक षडयंत्र जाँच हो : मंटू महतो

एकड़ा फायरिंग की घटना पर प्रेस बयान जारी कर आजसु पार्टी के जिला अध्यक्ष मंटू महतो ने मुख्यमंत्री व एसएसपी से घटना की सत्यता की जाँच कराने की मांग की। उन्होंने कहा कि यह घटना पूरी तरह से मनगढ़ंत व विधायक ढुल्लु महतो की राजनीतिक साजिश है। विधायक ढुलू महतो सुबह छह बजे ही एकड़ा पहुँचे थे और उनके इशारे पर ही राजनीतिक षडयंत्र के तहत खुद घटना को अंजाम दिलाकर हमलोगों का नाम देकर फंसाया गया है। उन्होंने कहा कि उनके घर में सीसीटीवी कैमरा लगा हुआ है। पुलिस कैमरे की जाँच कर उक्त घटना में मेरी सत्यता का पता कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि एकड़ा हरिजन बस्ती के दो गुटों ने दारु पी कर आपस में झगड़ा किया है। इसमें मेरा या मेरे परिवार की संलिप्तता नहीं है।

मंटू महतो के गुर्गो द्वारा धमकी दी जा रही थी:दिनेश रवानी

इधर विधायक प्रतिनिधि दिनेश रवानी ने एसएसपी को बताया कि वासुदेवपुर कोलियरी डंप में असंगठित मजदूरों के हक की लड़ाई लड़ रहे हैं, जिस कारण उन्हें पहले भी मंटू महतो के गुर्गो द्वारा धमकी दी जा रही थी। वासुदेवपुर कोल डंप में वर्चस्व स्थापित करने के लिए मंटू महतो, संतोष महतो व अन्य द्वारा मेरी हत्या की योजना के तहत घटना को अंजाम दिया गया है।

Last updated: अक्टूबर 16th, 2020 by Pappu Ahmad
Pappu Ahmad Pappu Ahmad
Correspondent, Dhanbad
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।