रिटायरमेन्ट के बाद बीसीसीएल कर्मी ने बेचा क्वार्टर

लोयाबाद में बीसीसीएल का आवास को अवैध रूप से बिक्री करने का मामला सामने आया है। बिक्री का आरोप किसी दूसरे पर नहीं बल्कि बीसीसीएल के ही कर्मी और बाबुओं पर लग रहा है। ऐसा ही एक मामले में लोयाबाद कोलियरी के दो सहायक धौड़ा सुपरवाइजर को यहाँ से हटा दिया गया है। सिजुआ जीएम, शिकायत के आधार पर यह कार्यवाही की है। इसी मामले में 50 हजार रुपये में आवास बिक्री करने का एक वीडियो भी तेजी से वायरल हो रहा है। ऑडियो में सहायक धौड़ा सुपरवाइजर फेंकू सिंह और आवास खरीदने वाले आनंद की आवाज़ बताई जा रही है। ऑडियो में रुपए देने वाले आनंद कह रहा है कि आवास हमें नहीं मिला तो मेरा रुपए वापस कर दिजिये,उस पर फेंकू सिंह कह रहे हैं कि पैसा हमने सभी जगह बाट दिया है। पैसा वापस का कोई सवाल ही नहीं उठता है। फेंकू सिंह कई बाबुओं एवं अन्य हिस्सेदार को रकम बाँट देने की बात स्वीकार रहे है। पैसा वापस नहीं होगा।

ऑडियो वायरल होने से बीसीसीएल के अधिकारी की किरकिरी हो रहा है। पहले भी बाबुओं पर इस तरह के आरोप लगते रहे हैं। इस किरकिरी के बाद अब संलिप्त आरोपियों पर विभागीय कार्यवाही एवं क़ानूनी कार्यवाही होना तय माना जा रहा है। हालांकि फेंकू सिंह इस ऑडियो में अपनी आवाज होने से इनकार तो कर रहे है। पैसे लेनदेन से भी मना कर रहे है। फेंकू सिंह का कहना है कि मैं सहायक हुँ मुझे दोषी मानकर यहाँ से हटा दिया गया।जबकि धौड़ा सुपरवाइजर पर कोई कार्यवाही नहीं हुई।मैनेजमेंट ने मेरे साथ न्याय नहीं किया है। अगर मुझे हटाया गया तो धौड़ा सुपरवाइजर को हटाना चाहिए। फिलहाल सहायक धौड़ा सुपरवाइजर फेंकू सिंह एवं संजय पासवान को निचितपुर कोलियरी भेज दिया गया है। हालांकि दोनों हटाए गए कर्मी अभी तक निचितपुर में योगदान नहीं दिया है। फेंकू सिंह का कहना है कि हम इसी कोलियरी में ड्यूटी करेंगे,जबकि सात नवम्बर को ट्रांसफर लेटर निर्गत किया गया है। फिलहाल दोनों कर्मी सिक छुट्टी में है और कोलियरी कार्यालय में ही मंडराते नजर आते हैं।

ये है मामला

लोयाबाद कोलियरी अंतर्गत दुर्गामंदिर के पीछे एक कर्मी रामदुलार के रिटायर्ड के बाद आवास खाली हुआ था। उसी आवास को आनंद नामक एक व्यक्ति के हाथ 50 हजार में बिक्री कर दी गई। हालांकि प्रबन्धन ने उस आवास को ध्वस्त कर दिया।इसके बाद आनंद फेंकू सिंह चुकाए गए 50 हजार की मांग कर रहा है। मामले में सिजुआ जीएम आशुतोष द्विवेदी से पक्ष जानने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया।

Last updated: नवम्बर 19th, 2020 by Pappu Ahmad
Pappu Ahmad Pappu Ahmad
Correspondent, Dhanbad
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।