सरस्वती पूजा विसर्जन में पुलिस पर पथराव, 13 लोगों पर मुकदमा

धनसार पुलिस पर हमला करने वालों पर पुलिस का शिकंजा कस गया है

धनसार न्यू दिल्ली कॉलोनी के पास मंगलवार की रात पुलिस पर हमला करने और खदेड़ने के मामले में 13 नामजद सहित 20-25 अज्ञात के खिलाफ थाने में मामला दर्ज किया गया। केस के सूचक खुद थाना प्रभारी योगेंद्र पासवान बने हैं। इस मामले में मौके से पकड़े गए बबलू अंसारी उर्फ सलीम अंसारी को बुधवार को जेल भेज दिया गया।

मंगलवार की रात साढ़े आठ बजे धनसार महावीर नगर झोपड़पट्टी से जुलूस की शक्ल में युवकों की टोली न्यू दिल्ली तालाब में प्रतिमा विसर्जन करने जा रही थी। थाना प्रभारी ने बयान दिया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि विसर्जन के दौरान युवक कमर में पिस्टल रखे हैं और किसी कांड को अंजाम देने की फिराक में हैं।

पुलिस जब मौके पर पहुँची और वहाँ बबलू अंसारी को पकड़ कर जाँच शुरू हुई, तो भीड़ उग्र हो गई और पुलिस पर पथराव कर दिया। पथराव में धनसार थाने के एएसआई विनोद सिंह का सिर फूट गया, जबकि सिपाही परवेज को भी चोट आई थी।

भीड़ ने पुलिस को बजरंगबली मंदिर धनसार तक खदेड़ दिया था। थाना प्रभारी योगेंद्र पासवान को बाइक से भाग कर जान बचानी पड़ी थी।

बुधवार की सुबह डीएसपी लॉ एंड ऑर्डर मुकेश कुमार धनसार थाने पहुँचे और हमले में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजने का आदेश दिया। टुन्ना खान, भोला चौहान, सुकरा भुइयां, पुनवा मांझी, हसीना भुईयां, दिलीप भुईयां, कार्तिक भुईयां, जंगल सिंह, देवलाल भुईयां, मनोज सिंह, रंजन पंडित, राम विलास चौहान सहित 20-25 अन्य लोगों को आरोपी बनाकर पुलिस उनकी तलाश कर रही है।

Subscribe Our YouTube Channel for instant Video Upload

Last updated: फ़रवरी 14th, 2019 by Pappu Ahmad