इनमोसा ने खदान के अन्दर मारे गए श्रमिकों को दी श्रद्धांजलि

ईसीएल खुट्टाडीह कोलियरी के खदान में चाल गिरने से मरे दो श्रमिकों की याद में इनमोसा की तरफ से खुट्टाडीह कोलियरी के सभागार में शोक सभा का आयोजन करके जूनियर ओवर मैन चन्द्रशेखर गिरि के साथ कलेश्वर महतो नामक श्रमिक को भी श्रद्धाजंलि दी गयी. इस अवसर पर इनमोसा के राष्ट्रीय महासचिव पीएन मिश्रा ने कहा कि एक माइनिंग मैन को दुर्घटना में मरा जाना खदान में सुरक्षा इंतजामों का पोल खोलता है,

आखिर सभी माइनिंग मैन को पहले अपनी सुरक्षा को ध्यान में रखने की जरूरत है, तभी हम सुरक्षित होकर कोयला उत्पादन कर सकते है. प्रबंधन से पीठ थपथपाने की जरूरत माइनिंग मैन को नहीं होनी चाहिए, क्योंकि खदान तो माइनिंग मैन चलाता है और सबसे पहले सुरक्षा उसी को देखना चाहिए. आज हमारे बीच चंद्रशेखर गिरि नहीं है. उनकी यादे है और इनमोसा संगठन को अपनी एकजुटता के साथ अपनी जायज मांगों के लिये तैयार रहने की जरूरत है. पांडेश्वर क्षेत्र के सुरक्षा अधिकारी (खनन) जयदेव दंग ने भी सुरक्षा को अहम बतलाया.

इस अवसर पर मण्डल सचिव इनमोसा सुखेन राय, पांडेश्वर क्षेत्र के इनमोसा सचिव आसुतोष, खुट्टाडीह कोलियरी के पिनाकी बनर्जी, दिनेश वर्मा, हरिशंकर चौबे, सुड्डू सिंह समेत क्षेत्र के सभी माइनिंग और ओवर मैन उपस्थित थे. इनमोसा सदस्यों ने चन्द्रशेखर गिरि के घर जाकर परिवार को सांत्वना भी दिया.

Subscribe Our YouTube Channel for instant Video Upload

Last updated: अक्टूबर 11th, 2018 by Pandaweshwar Correspondent