धनबाद में शुरू होगा रेडियो स्टेशन, 1971 में इन्दिरा गांधी ने की थी घोषणा

धनबाद । आकाशवाणी के धनबाद केंद्र से बोल रहा हूँ। यह आवाज सुनने के लिए हजारों लोग करीब पाँच दशक से इंतजार कर रहे थे। इंतजार की घड़ी खत्म हो चली है। अगर सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के माैके पर धनबाद रेडियो स्टेशन से एफएम चैनल का प्रसारण चालू हो जाएगा। गणतंत्र दिवस पर न भी हुआ तो फरवरी महीने से प्रसारण शुरू हो जाएगा। और धनबाद की जनता भी साफ आवाज में एफएम का प्रसारण सुनेगी।

यूपीए सरकार में विदेश से चला और एनडीए सरकार के इस कार्यकाल के आखिरी में पहुँचा

धनबाद अंचल के नारायणपुर मौजा में एफएम रेडियो स्टेशन और स्टूडियो बनकर करीब पाँच साल से तैयार था। लेकिन, प्रसारण ट्रांसमीटर इंस्टॉल नहीं होने के कारण चालू नहीं हो पा रहा था। करीब पाँच साल पहले प्रसार भारती ने धनबाद के लिए विदेश में 10 किलो वाट एफएम ट्रांसमीटर का ऑर्डर दिया था। समुद्र के रास्ते आ रहे ट्रांसमीटर को तत्कालीन यूपीए सरकार चेन्नई के लिए डायवर्ट कर दिया गया। ऐसा चन्नई रेडियो स्टेशन का ट्रांसमीटर खराब होने के कारण किया गया।

चेन्नई के लिए इटली से नए ट्रांसमीटर की खरीदारी और उसके इंस्टॉल होने के बाद वहाँ बज रहे ट्रांसमीटर की धनबाद शिफ्ट किया गया। वहाँ से लाकर धनबाद रेडियो स्टेशन में युद्धस्तर पर ट्रांसमीटर इंस्टॉल किया जा रहा है।

अस्थायी टावर लगा, 2.50 किलोवाट फ्रीक्वेंसी पर होगा प्रसारण

10 किलोवाट ट्रांसमीटर से प्रसारण के लिए 100 मीटर ऊंचा टावर लगाया जाना है। इस टावर के लग जाने के बाद न सिर्फ धनबाद बल्कि आस-पास के जिलों में भी एफएम का प्रसारण साफ आवाज में सुनी जा सकेगी। दिल्ली से टावर आना है। प्रसार भारती द्वारा टावर की खरीदारी और ट्रांसपोर्टिंग में लगने वाले समय को देखते हुए अस्थायी ताैर पर टावर खड़ा किया गया। इस टावर से फिलहाल 2.50 किलोवाट फ्रीक्वेंसी पर प्रसारण होगा।

1971 में इंदिरा गाँधी ने की थी घोषणा

धनबाद में रेडियो स्टेशन निर्माण की पहली बार तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी ने 1971 में घोषणा की थी। इसके बाद हर पंचवर्षीय योजना में धनबाद में रेडियो स्टेशन का निर्माण शामिल होता रहा।

झारखंड बनने के बाद मिली जमीन और स्टुडियो लेकिन टावर और ट्रांसमीटर नहीं मिला

झारखंड बनने के बाद धनबाद अंचल के नारायणपुर मौजा में जिला प्रशासन ने 2.5 एकड़ जमीन प्रसार भारती के नाम बंदोबस्त किया। प्रसार भारती को यह जमीन निःशुल्क दी गई। पाँच वर्ष से रेडियो स्टेशन भवन और स्टूडियो बनकर तैयार था। लेकिन, ट्रांसमीटर और टावर के अभाव में रेडियो स्टेशन ऑन एयर नहीं हो पा रहा है। पिछले दिनों राज्य के सूचना एवं प्रसारण विभाग के सचिव ने झारखंड में दूरदर्शन और आकाशवाणी के कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए 26 जनवरी यानि गणतंत्र दिवस तक धनबाद में एफएम रेडियो स्टेशन चालू करने का निर्देश दिया है।

चेन्नई से 10 किलोवाट का ट्रांसमीटर लाकर धनबाद में निर्मित रेडियो स्टेशन भवन में इंस्टॉल किया जा रहा है। जल्द ही परीक्षण किया जाएगा। इसके बाद प्रसार भारती नई दिल्ली को प्रसारण शुरू करने के लिए लिखा जाएगा। अनुमति मिलते ही धनबाद से एफएम का प्रसारण शुरू कर दिया जाएगा।

Subscribe Our Channel

Last updated: जनवरी 7th, 2019 by Pappu Ahmad