नीति आयोग उपाध्‍यक्ष ने मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी से कोलकाता में मुलाकात की

देश में सहकारी संघवाद को बढ़ावा देने के नीति आयोग के प्रयासों के तहत आयोग के उपाध्‍यक्ष डॉ. राजीव कुमार के नेतृत्‍व में वरिष्‍ठ अधिकारियों के एक दल ने आज कोलकाता में पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री और राज्‍य के वरिष्‍ठ अधिकारियों के साथ मुलाकात की। नीति आयोग के सदस्‍य डॉ. वी.के. सारस्वत और संयुक्‍त सचिव श्री विक्रम सिंह गौर सहित कई वरिष्‍ठ अधिकारी भी श्री राजीव कुमार के साथ हैं। इस अवसर पर पश्चिम बंगाल के वित्‍त मंत्री श्री अमित मित्रा और मुख्‍य सचिव श्री मलय कुमार डे ने नीति आयोग के अधिकारियों के साथ विचार विमर्श किया। श्री राजीव कुमार और पश्चिम बंगाल के मुख्‍यमंत्री सुश्री बनर्जी के बीच राज्‍य के विकास से जुड़े सभी मुद्दों पर विस्‍तार से बातचीत की गई।

इसमें मुख्‍य रूप से गंगा – भागीरथी – हुबली तथा दामोदर, रूपनारायण, स्‍वर्ण रेखा, गंसाबाती, तीसता, तोरसा और जल ढाका नदियों से जुड़े बाढ़ प्रबंधन कार्यक्रम में सुधार, राज्‍य की बिजली वितरण कंपनियों का पुनर्गठन, मैथन और पंचेत जलाशयों से गाद निकालना, दुर्गापुर हवाई अड्डे का परिचालन तथा कोलकाता से यूरोप के बीच सीधी विमान सेवा शुरू करना, पिछड़ा क्षेत्र अनुदान कोष से ग्रामीण और शहरी स्‍थानीय निकायों को उनके प्रदर्शन के हिसाब से अनुदान देना, सर्वशिक्षा अभियान मध्‍यान भोजन कार्यक्रम और राष्‍ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम, अमृत, स्‍वच्‍छ भारत अभियान, खनन और खाली पड़े कोयला खदान तथा कोयला ब्‍लॉकों का आवंटन, हल्दिया बंदरगाह से गाद निकालना, धोर सागर और ताजपुर बंदरगाह का विकास, कोलकाता पोर्ट ट्रस्‍ट को अतिरिक्‍त भूमि आवंटित करना, पुलिस बलों का आधुनिकीकरण तथा बंगलादेश से लिए गये भू-क्षेत्रों में पुर्नवास तथा अवसंरचना विकास, फसल बीमा योजना, किसान ऋण योजना तथा बागवानी क्षेत्र का एकीकृत विकास आदि निम्‍नलिखित बातों पर चर्चा हुई.

बैठक में उपरोक्‍त विषयों के अलावा पश्चिम बंगाल के संदर्भ में केंद्रीय मंत्रालयों से जुड़े कोयला, वाणिज्‍य, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस, रसायन और पेट्रो केमिकल, नागर विमानन खदान, पशुपालन, मत्‍स्‍य पालय, खाद्य और जन वितरण प्रणाली, पंचायती राज, ग्रामीण विकास और आवास तथा शहरी मामलों से संबंधित मुद्दों पर भी चर्चा की गई। सुश्री बनर्जी ने नीति आयोग के प्रयासों की सराहना की ओर कहा कि केन्‍द्र के साथ सभी प्रमुख विषयों पर चर्चा में उसे भी विश्‍वास में रखा जाएगा।

Last updated: अगस्त 8th, 2018 by Jahangir Alam

ताजा अपडेट
स्वतंत्रता दिवस के शुभकामना संदेश
  • ट्रेंडिंग
    ✉ mail us(mobile number compulsory) : mondaymorning.editor@gmail.com