विधायक ढुल्लू महतो ने प्रबंधक को चेताया, रैयत के साथ नाइंसाफी हुई तो सिजुआ क्षेत्र का होगा चक्का जाम

बंदी करने वाले को पुलिस 48 घंटे में गिरफ्तार कर जेल भेजें नहीं तो होगा उग्र आंदोलन

धनबाद / तेतुलमारी विधायक ढुल्लू महतो पहुँचे बीसीसीएल एरिया पाँच के कार्यालय में जहाँ महाप्रबंधक पी चंद्रा और डीएसपी मनोज कुमार से की वार्ता .

विधायक ढुल्लू महतो ने कड़े शब्दों में प्रबंधक को चेताया कि रैयत के साथ नाइंसाफी हुई तो सिजुआ क्षेत्र का होगा चक्का जाम । गिरिडीह सांसद चंद्र प्रकाश चौधरी भी रैयत के समर्थन में उतर गए है। उन्होंने भी इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा की है। गोली चलाने वाले आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं और 3 दिन से बीसीसीएल का चक्का जाम करके रखे हैं। कोई भी हो कानून हाथ में लेने का हक किसी को नहीं है। अगर वह जमीन बीसीसीएल की है तो वह काम करें अगर जमीन रैयत की है तो हाथ जोड़कर ही काम करें। विधायक सांसद के रहते हुए यह अशोक ठाकुर कौन होता है नेतागिरी करने वाला । ढुल्लू महतो किसी भी कीमत पर गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करेगा। पुलिस ऐसे लोगों को चिन्हित कर करवाई करें। मान सम्मान के साथ कोई समझौता नहीं होगा 48 घंटे के अंदर आरोपियों को गिरफ्तार करें । 7 दिन में रैयत को नियोजन मुआवजा नहीं मिलेगा तो होगा चक्का जाम। गोली बारूद का इतिहास नहीं चलेगा गोली बम चलाकर रैयत को चुनौती दिया गया है। जलेश्वर महतो हमेशा माफियाओं को संरक्षण देने के लिए काम किया है किसी को हक अधिकार नहीं दिला सका। प्रबंधक पी चंद्रा ने रैयत को रोजगार देने पर सहमति जताई है ।

गौरतलब है कि बीते गुरुवार को एरिया 05 तेतुलमारी कोल डम्प में दो पक्षों में जमकर झड़प हुई।कई राउंड गोलियाँ भी चली। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि एक पक्ष जो तेतुलमारी कोल डम्प के असंगठित कोयला मजदूर हैं और दूसरी ओर अपनेआप को रैयत विस्थापित बताकर इसी कोल डम्प में रोजगार मांगने वाले स्थानीय।दोनों पक्ष कई बार अपनी मांगों को लेकर कोल डम्प में आमने-सामने हो चुके हैं। विस्थापितों द्वारा कोल डम्प में रोजगार की मांग को लेकर कई दिनों से धरना भी दिया जा रहा था। गोली चलने के बाद से ही एरिया में कोयला उत्पादन बंद है।

Subscribe Our YouTube Channel for instant Video News Uploaded

Last updated: जून 8th, 2019 by Pappu Ahmad