Monday Morning News Network
You can Print this page with "Control" + "P" Button of your Window or whatever method of your operating system

धनबाद पुलिस की दबंगई : वाहन चेकिंग के दौरान परीक्षार्थी का मारकर सिर फोड़ा

धनबाद : वाहन चेकिंग के नाम पर पुलिस की दबंगई का एक ऐसा दृश्य देखने को मिला, जिसे देख शायद आप गुस्से से भर उठे. यहाँ गुस्सा आना भी लाजमी है. क्योंकि पुलिस वाले ने ड्यूटी के नाम पर परीक्षा देने जा रहे एक छात्र के साथ गलत व्यवहार किया है.

कोयला राजधानी धनबाद इन दिनों बाइकर्स गिरोह के आतंक से जूझ रहा है. वहीं हमारे जिले की तेज तर्रार पुलिस उस गिरोह पर नकेल कसने के बजाये दो पहिया वाहन चेकिंग के नाम पर आम जनता को परेशान ही नहीं अब उनका खून भी बहाने लगी है. बुधवार सुबह धनबाद के बैंक मोड़ इलाके में एक ऐसा ही नजारा देखने को मिला. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार हुआ ये कि बैंक मोड़ थाना सड़क पर खड़ी होकर दो पहिया वाहन की जाँच कर रही थी. तभी एक छात्र जो किसी परीक्षा में शामिल होने अपनी बाइक पर सवार होकर जा रहा था, उसे पुलिस ने रुकने के लिए कहा. छात्र परीक्षा केंद्र पर जाने के लिए लेट हो रहा था. उसके बावजूद उसने बाइक रोक कर पुलिस वाले से अपनी मजबूरी बतानी चाही. इतने में ही वर्दी के नशे में चूर वहाँ ड्यूटी बजा रहे एक पुलिस वाले ने बिना कुछ सोचे-समझे छात्र के सिर पर डंडे से प्रहार कर दिया. जिससे छात्र का सिर बूरी तरह से फट गया और उसके सिर से भरी मात्रा में खून बहने लगा.

छात्र का चेहरा और कमीज उसके खून से सन गया

खून इतना बह रहा था कि छात्र का पूरा चेहरा और उसकी कमीज उसके खून से सन गया. भारी रक्त स्त्राव होने की वजह से छात्र भी बेसुध होने लगा. जिसके बाद वहाँ मौजूद लोगों ने छात्र को संभाला. जनता पुलिस की बर्बरता पूर्ण इस कार्यवाही से भड़क गई और आरोपी पुलिस वाले को भला-बुरा कहने लगी. वहीं माहौल बिगड़ता देख उस पुलिसवाले ने आनन-फानन में एक ई-रिक्शा रुकवाया और जबरन छात्र को उसपर बिठा अस्पताल ले कर चल दिया. इस बीच छात्र लगातार अपने परीक्षा छूटने की दुहाई पुलिस वाले को देता रहा. लेकिन उस पुलिस वाले ने अपना गुनाह दबाने और जनता के कोप से वचने के लिए जबरन छात्र को पकड़ वहाँ से भाग खड़ा हुआ .

इस मामले में ट्रैफिक थाना प्रभारी राजेश्वर वर्मा ने इस मामले से पल्ला झाड़ते हुए कहा कि अभियान के दौरान छात्र को पुलिस द्वारा रोका गया था, लेकिन छात्र पुलिस को देख कर भागने लगा. उसी क्रम में उसे चोट लगी है. उन्हें पुलिस ने नहीं मारा है.

वाहन चेकिंग के नाम पर आम जनता को सिर्फ परेशान कर रही है पुलिस

वहीं स्थानीय लोगों की माने तो पुलिस आए दिन वाहन चेकिंग के नाम पर आम जनता को सिर्फ परेशान कर रही है. इस दौरान पुलिस आम लोगों का जमकर भयादोहन भी करती है. लेकिन आज जिस तरह से पुलिस ने वाहन चेकिंग के नाम पर अपनी बर्बरता का परिचय दिया है, वो पुलिस की आम जनता के प्रति व्यवहार को दर्शाता है.

अविलम्ब हो कार्यवाही, नहीं तो होगा आंदोलन : आशीष सिंह

इधर छात्र एकता मंच के आशीष सिंह ने कहा कि पुलिस का इस तरह का रवैया मानवता को शर्मसार करने वाला है. उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर एसएसपी से मुलाकात कर जाँच की मांग करेंगे और दोषियों पर अविलम्ब कार्यवाही की जाए अन्यथा इसको लेकर छात्र एकता मंच आंदोलन करने को बाध्य होगा.

Subscribe Our YouTube Channel for instant Video News Uploaded

Last updated: फ़रवरी 13th, 2019 by