4 महीने बाद कॉंग्रेस नेता वैभव सिंहा हुए रिहा, फर्जी हमला करवाने के आरोप में गए थे जेल

4 महीने 26 दिन बाद हुये रिहा

धनबाद धैया: कॉंग्रेस के नगर अध्यक्ष वैभव सिन्हा आज धनबाद जेल से हुए रिहा। जेल से निकलते ही समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। सिन्हा का स्वागत फूल मालाओं से किया गया। वैभव सिन्हा जिंदाबाद के नारे लगाने लगे।सभी समर्थक रोड शो करते हुए वैभव सिन्हा जिंदाबाद, धनबाद का विधायक कैसा हो जैसे नारे लगाते रहे।

अपने ही बुने जाल में फंस गए थे वैभव  सिन्हा

कॉंग्रेस के नगर अध्यक्ष वैभव सिन्हा 16 अगस्त 2018 को अपने ही बुने जाल में बुरी तरफ फंस गए। शाम चार बजे पुलिस को खबर मिली कि धैया स्थित वैभव के रेस्टोरेंट में छह हमलावरों ने उन पर फायरिंग की लेकिन पुलिस जब जाँच को पहुँची तो मामला उलट गया। पुलिस का दावा है कि वैभव ने युवकों को फंसाने के लिए झूठी कहानी गढ़ी। प्रायोजित तौर पर पिस्टल थमा कर युवकों पर फायरिंग का आरोप लगाया गया। पुलिस ने वैभव सिन्हा को गिरफ्तार कर लिया । वैभव के अलावा साजिश में उनके समर्थक बलियापुर निवासी शुभम बनर्जी, गोविंदपुर निवासी राहुल दुबे और विकास दुबे के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

वैभव ने कानून के साथ खिलवाड़ किया : सिटी एसपी पीयूष पाण्डेय

तत्कालीन सिटी एसपी पीयूष पांडेय ने धनबाद थाना में पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि वैभव सिन्हा ने कानून के साथ खिलवाड़ किया। झरिया के जिन छह युवकों पर उन्होंने हमले का आरोप लगाया दरअसल उन युवकों पर वैभव ने ही हमला कराया। उनके साथ बुरी तरह से पहले मारपीट की गई फिर दो पिस्टल रख कर उन्हें फंसाने की कोशिश हुई। वैभव सिन्हा को शुक्रवार को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया,वैभव सिन्हा के खिलाफ धारा 341, 323, 354, 385, 379, 506 और 34 के तहत मुकदमा दर्ज किया था जहाँ से उन्हें जेल भेजा दिया गया।

Subscribe Our YouTube Channel for instant Video Upload

Last updated: जनवरी 11th, 2019 by Pappu Ahmad