पूर्व विधायक संजीव सिंह को धनबाद जेल से दुमका शिफ्ट किये जाने के विरोध में भारतीय जनता पार्टी महानगर इकाई द्वारा एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया

धनबाद। भारतीय जनता पार्टी महानगर इकाई द्वारा घोषित एक दिवसीय महाधरना में गुरुवार को रणधीर वर्मा चौक पर काफी संख्या में लोग जुटे। धरना कार्यक्रम में वक्ताओं ने जमकर नारेबाजी की। कई वक्ताओं ने अपने संबोधन में कहा कि पूर्व विधायक संजीव सिंह को धनबाद जेल से दुमका भेजे जाने के पीछे के षड्यंत्रकारियों को प्रशासन पर बेनकाब करें। जिससे कि आम लोगों को सही तथ्यों की जानकारी मिल सके। महाधरना में पूर्व विधायक संजीव सिंह की पत्नी भाजपा नेत्री रागनी सिंह ने राज्य सरकार पर आरोप लगाया है कि हेमंत सरकार कॉंग्रेस पार्टी से गठजोड़ कर उनके पति संजीव सिंह की हत्या कराने की साजिश रच रहे हैं। जिसके तहत उन्हें तरह-तरह से प्रताड़ित किया जा रहा है। मंसूबा कामयाब नहीं होने पर उन्हें एक सुनियोजित साजिश के तहत दुमका जेल शिफ्ट किया गया है। ताकि वहाँ पर हेमंत सोरेन के निर्देश पर उनके पति संजीव सिंह की हत्या की साजिश को क्रियान्वित किया जा सके।

पूर्व में चंद्रशेखर अग्रवाल ने कहा कि जिला प्रशासन के किस पदाधिकारी के दबाव में धनबाद जेल अधीक्षक ने पूर्व विधायक संजीव सिंह को दुमका जेल शिफ्ट करने का निर्णय लिया। जबकि कोर्ट में न्यायालय में मामले की सुनवाई अंतिम चरण में है। ऐसे में बगैर किसी आरोप के भाजपा नेता और पूर्व विधायक संजीव सिंह को दुमका जेल भेजा जाना निंदनीय तथा जाँच का विषय है। कार्यक्रम में भाजपा के कई प्रमुख नेता समेत पूर्व विधायक संजीव सिंह की पत्नी रागिनी सिंह, महानगर अध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह समेत सैकड़ों लोगों ने एक स्वर में हेमंत सरकार के क्रियाकलापों की तीव्र निंदा करते हुए उच्च स्तरीय जाँच की मांग की।

मालूम हो कि पूर्व विधायक संजीव सिंह अपने चचेरे भाई पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह की हत्या मामले में जेल में बंद हैं। जिसकी न्यायालय में सुनवाई अंतिम चरण में है। जबकि संजीव सिंह का जेल में गतिविधि सामान्य है। ऐसे में रातों-रात दुमका जेल शिफ्ट किए जाने का निर्णय भाजपाइयों और उनके परिजनों को स्वीकार नहीं है। जानकारों की माने तो पूर्व डिप्टी मेयर स्व नीरज सिंह की पत्नी पूर्णिमा नीरज सिंह वर्तमान में झरिया सीट से कॉंग्रेस पार्टी की विधायक है। हेमंत सरकार का कॉंग्रेस पार्टी से महागठबंधन है। अंदाजा लगाया जा रहा है कि झरिया विधायक नीरज सिंह के इशारे पर एक सुनियोजित साजिश के तहत संजीव सिंह को दुमका जेल शिफ्ट किया गया है।

Last updated: फ़रवरी 25th, 2021 by Arun Kumar
Arun Kumar Arun Kumar
Bureau Chief, Jharia (Dhanbad, Jharkhand)
अपने आस-पास की ताजा खबर हमें देने के लिए यहाँ क्लिक करें

हर रोज ताजा खबरें तुरंत पढ़ने के लिए हमारे ऐंड्रोइड ऐप्प डाउनलोड कर लें
आपके मोबाइल में किसी ऐप के माध्यम से जावास्क्रिप्ट को निष्क्रिय कर दिया गया है। बिना जावास्क्रिप्ट के यह पेज ठीक से नहीं खुल सकता है ।