डीपीएल एमडी के वाहन से जख्मी हुयी प्रदर्शनकारी महिला , स्थाई नौकरी की मांग पर हो रहा प्रदर्शन

मंगलवार की दोपहर को कोकोवेन थाना अंतर्गत दुर्गापुर प्रोजेक्ट लिमिटेड (डीपीएल प्रशासनिक) भवन के समक्ष नियुक्ति की मांग को लेकर आश्रितों का धरना प्रदर्शन चल रहा था। उसी समय कंपनी के एमडी के वाहन से आंदोलन कर रही आश्रित महिला को ठोकर लग गई। आश्रित महिला तनिष्का चटर्जी को प्राथमिक चिकित्सा के लिए महकमा अस्पताल ले जाया गया।

इस घटना से प्रदर्शनकारी आक्रोशित हो गए एवं प्रबंधन के खिलाफ प्रतिवाद जुलूस निकाला। जानकारी के मुताबिक पिछले 17 दिनों से डीपीएल प्रशासनिक भवन के समक्ष 100 आश्रित स्थाई नौकरी की मांग पर धरना प्रदर्शन पर बैठे हैं। प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि नियुक्ति को लेकर प्रबंधन द्वारा कोई सकारात्मक पहल नहीं किया जा रहा है। आश्रितों का दल डीपीएल के एमडी आशीष शाह से एक बार भेंट करना चाहते हैं।

लेकिन प्रबंधन के आला अधिकारी एवं चीफ सिक्योरिटी प्रदर्शनकारियों को एमडी से मिलाने में कोई सहयोग नहीं कर रहा है। धरना पर बैठे आश्रित विश्वजीत कुमार ने बताया कि एमडी से मिलने के लिए सभी विभागों में आवेदन पत्र देने पर मंगलवार को चीफ सिक्योरिटी एवं प्रबंधन अधिकारी सुब्रत मुखर्जी ने आंदोलनकारियों को भेंट करने के लिए बुलाया था।

प्रदर्शनकारियों का दल प्रबंधन के अधिकारियों के साथ भेंट तो की, लेकिन उन्होंने भी एमडी से मिलने पर सहयोग नहीं किया। इस दौरान प्रशासन भवन के समक्ष महिला प्रदर्शनकारियो ने हंगामा शुरू कर दिया एवं एमडी से भेंट करने पर अड़ गई। उसी दौरान कार्यालय से एमडी आशीष साहा कार पर बैठ तेज गति से प्रदर्शनकरियो के बीच से निकल गए। एमडी का वाहन तेज गति से होने के कारण तनिष्का चटर्जी को ठोकर लग जाने से वह घायल हुई। महिला के जख्मी होने से प्रदर्शनकारी भड़क गए एवं जोरदार प्रदर्शन शुरू कर दिया।

Subscribe Our YouTube Channel for instant Video News Uploaded

Last updated: फ़रवरी 12th, 2019 by Durgapur Correspondent